BSF Sub-Inspector Rakesh Doval succumbs to injuries sustained during a ceasefire violation by Pakistan in Baramulla district of Jammu and Kashmir: पाकिस्‍तानी सेना जम्‍मू-कश्‍मीर में लगातार युद्ध विराम का उल्‍लंघन कर रही है. पाकिस्‍तानी सुरक्षाबल जहां एक ओर सीजफायर वॉयलेशन कर रहे हैं, वहीं, आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए कवर फायरिंग कर रहे हैं. पाकिस्‍तानी आर्मी ने एलओसी पर आज शुक्रवार को कई जगह फायरिंग की है, जिसमें बीएसएफ सब-इंस्‍पेक्‍टर (BSF Sub-Inspector) राकेश डोभाल घायल हो गए और बाद में उन्‍होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया, वहीं, कमलकोट सेक्टर में पा‍किस्‍तानी फायरिंग में एक नागरिक की भी मौत हो गई है. Also Read - School College Reopening latest News: जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन, 31 दिसंबर तक बंद रहेंग स्कूल-कॉलेज

जम्मू-कश्मीर: पुंछ के सवजियान में पाकिस्तान द्वारा किए गए संघर्षविराम उल्लंघन में बच्चों सहित 6 नागरिक घायल हो गए हैं. घायल को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. Also Read - Jammu and kashmir DDC Polls: जम्मू कश्मीर की 43 सीटों पर आज जिला विकास परिषद के चुनाव, सुरक्षा के कड़े इंतजाम, जानें ताजा अपडेट

शहीद बीएसएफ सब-इंस्‍पेक्‍टर (BSF Sub-Inspector) राकेश डोभाल उत्तराखंड के ऋषिकेश जिले के गंगा नगर के निवासी थे. बीएसएफ ने बताया कि पाकिस्‍तानी फायरिंग लगातार जारी है. पाकिस्तान ने पुंछ जिले के सवजियान में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है. भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई कर रही है. एक स्थानीय नागरिक ने कहा, “सरकार को इस पर गौर करना चाहिए, हम बहुत डरे हुए हैं. गोलाबारी बंद होनी चाहिए.”

इससे पहले 7- 8 नवंबर की मध्यरात्रि माछिल सेक्टर में घुसपैठ का असफल प्रयास किया गया था, जिसमें तीन आतंकवादी मारे गए थे. इस ऑपरेशन अभियान में सेना के एक कैप्टन और बीएसएफ के एक जवान सहित तीन सैनिक शहीद हो गए थे.

पाकिस्तान ने एलओसी पर संघर्षविराम का उल्लंघन किया, एक नागरिक की मौत
पाकिस्तानी सैनिकों ने शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के कमलकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्ष विराम समझौते का उल्लंघन किया जिससे एक नागरिक की मौत हो गई जबकि एक अन्य घायल हो गया. पाकिस्तानी सैनिकों ने मोर्टार दागे और अन्य हथियारों से गोलाबारी की. घायल नागरिक को अस्पताल भेजा गया है. उरी के कमलकोट सेक्टर के अलावा दो अन्य स्थानों से भी संघर्ष विराम के उल्लंघन की सूचना है. इन स्थानों में बांदीपोरा जिले के गुरेज़ सेक्टर में इज़मर्ग और कुपवाड़ा जिले में केरन सेक्टर शामिल हैं.

सतर्क सैनिकों ने संदिग्ध घुसपैठ के प्रयास को नाकाम कर दिया
एक रक्षा प्रवक्ता ने यह भी बताया कि सेना ने घुसपैठ की एक कोशिश को विफल कर दिया. केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास संघर्ष विराम का उल्लंघन कर घुसपैठ के लिए मदद की जा रही थी. श्रीनगर स्थित रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने कहा, ”केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास अग्रिम चौकियों पर आज हमारे सैनिकों ने संदिग्ध गतिविधियां देखीं. सतर्क सैनिकों ने संदिग्ध घुसपैठ के प्रयास को नाकाम कर दिया.” घुसपैठ के प्रयास के साथ ही पाकिस्तान ने बिना किसी उकसावे के संघर्षविराम का उल्लंघन शुरू किया. कर्नल कालिया ने कहा, ”उन्होंने मोर्टार और अन्य हथियारों से गोले दागे. इसका उचित जवाब दिया जा रहा है.” एक सप्ताह के भीतर यह घुसपैठ की दूसरी कोशिश थी.

7-8 नवंबर को कैप्टन और बीएसएफ के एक जवान सहित तीन सैनिक शहीद  हुुए थे 
कश्‍मीर मेंं इससे पहले 7- 8 नवंबर की मध्यरात्रि माछिल सेक्टर में घुसपैठ का असफल प्रयास किया गया था, जिसमें तीन आतंकवादी मारे गए थे. इस ऑपरेशन अभियान में सेना के एक कैप्टन और बीएसएफ के एक जवान सहित तीन सैनिक शहीद हो गए थे. प्रवक्ता ने कहा, “भारत की सेना पाकिस्तान द्वारा जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों की घुसपैठ कराने के सभी प्रयासों को नाकाम बनाने के लिए पूरी तरह से तैयार है.”