नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में फीस वृद्धि और ड्रेस कोड जैसी पाबंदियों के विरोध में सैकड़ों छात्रों ने सोमवार को विश्वविद्यालय के बाहर प्रदर्शन किया. प्रदर्शन कर रहे छात्र अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) की तरफ आगे बढ़ना चाहते थे, लेकिन गेटों पर अवरोधक लगा दिए गए हैं. उपराष्ट्रपति वेकैंया नायडू इस स्थान पर दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे.

छात्र संस्थान में फीस वृद्धि, आने-जाने के समय पर पाबंदी और ड्रेस कोड पाबंदियों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. दिल्ली यातायात पुलिस ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘‘प्रदर्शन के कारण बाबा गंगनाथ मार्ग से जेएनयू तक यातायात में बाधा.’’ उसने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘नेल्सन मंडेला मार्ग पर प्रदर्शन के कारण पीएस वसंत विहार से पीएस वसंत कुंज तक यातायात बाधित. कृपया यहां से यात्रा करने से बचें.’’

 

छात्रों ने बताया कि सुबह शुरु हुआ यह प्रदर्शन छात्रावास के मैनुअल के विरोध के अलावा पार्थ सारथी रॉक्स में प्रवेश पर प्रशासन की पाबंदी तथा छात्र संघ के कार्यालय को बंद करने के प्रयास के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों का ही हिस्सा है. छात्रों का दावा है कि मैनुअल में फीस में वृद्धि, कर्फ्यू का वक्त और ड्रेस कोड जैसी पाबंदियों का प्रावधान है.

सैकड़ों जेएनयू छात्रों ने अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) ऑडिटोरियम के बाहर प्रशासन की ‘‘छात्र विरोधी’’ नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया. यहां विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह आयोजित किया जा रहा है.