नई दिल्ली. जेएनयू के छात्रनेता उमर खालिद पर सोमवार को हुए हमले की जांच कर रही पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस को संदिग्ध व्यक्ति सीसीटीवी फुटेज में देखने को मिला है. उसकी फोटो जारी कर दी गई है. बता दें कि खालिद पर कंस्टीट्यूशन क्लब के पास सोमवार की दोपहर हमला हुआ था.

उमर खालिद पर संसद भवन के करीब दिल्ली के हाई सिक्युरिटी एरिया में संदिग्ध ने फायरिंग की थी. घटना सोमवार दोपहर 2.30 की है. बता दें कि स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. इन सब के बीच हाई सेंसेटिव एरिया में इस तरह की घटना सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोलती है.

अपने ऊपर हुए हमले पर बोलते हुए खालिद ने लिखा है, वह चाय पीकर कॉम्लेक्स के अंदर वापस जा रहा था. इसी दौरान एक शख्स आया और मुझे पीछे से धक्का देकर गोली चलाने की कोशिश की. हालांकि, वह उसका चेहरा देखने में नाकामयाब रहा. जान बचाने के लिए मैं वहां से भागा. वहीं, हमलावर भी दूसरी तरफ से भाग निकला.

दूसरी तरफ छात्र नेता शेहला रशीद ने माफिया डॉन रवि पुजारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया है. उनका आरोप है कि रवि पुजारी ने उन्हें उमर खालिद को और दलित नेता जिग्नेश मेवानी को चुव रहने की चेतावनी दी है. शेहला ने इस मैसेज का स्क्रीन शॉट ट्वीटर पर पोस्ट भी किया है. इस मैसेज में लिखा है, अपनी जुबान बंद रखो नहीं तो हमेशा के लिए बंद कर दिया जाएगा. ये चीज उमर खालिद और जिग्नेश मेवानी को भी बता देना. माफिया डॉन रवि पुजारी.