नई दिल्लीः यौन शोषण के आरोपी जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) के प्रोफेसर अतुल जौहरी को दिल्‍ली की एक अदालत ने जमानत देे दी. इससे पहले मंगलवार दोपहर को दिल्‍ली पुलिस ने उन्‍हें गिरफ्तार किया था. दिल्ली पुलिस ने दो घंटे से अधिक की पूछताछ के बाद जौहरी को गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी के बाद जौहरी को दिल्ली के पाटियाला हाऊस अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया. छात्रों के भारी विरोध प्रदर्शन के बाद दिल्ली पुलिस ने जौहरी के खिलाफ सोमवार रात में यौन उत्पीड़न के आठ मामले दर्ज किए थे. Also Read - कोर्ट ने शरजील इमाम को दिल्ली पुलिस की रिमांड पर भेजा, वकीलों ने लगाए देशद्रोही के नारे

गौरतलब है कि छात्रों ने कथित रूप से 9 छात्राओं के साथ यौन शोषण के आरोपी प्रोफेसर की गिरफ्तारी को लेकर सोमवार को जमकर हंगामा किया था. प्रदर्शनकारी स्टूडेंट्स ने आरोपी प्रोफेसर की गिरफ्तारी की मांग को लेकर वंसत कुंज थाने का धेराव किया था. ये छात्र प्रोफेसर के खिलाफ रेप का मामला दर्ज करने और उसकी तुरंत गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे. इस दौरान छात्रों और पुलिस के बीच हल्की झड़प भी हुई थी. उधर, पुलिस ने आरोपी प्रोफेसर को नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए थाने बुलाया था.

क्या है मामला
गुरुवार को जेएनयू की कुछ छात्राओं ने एक प्रोफेसर के खिलाफ यौन उत्पीड़न की शिकायत की थी. स्कूल ऑफ लाइफ साइंसेज की नौ छात्राओं ने मीडिया के सामने आरोप लगाया कि एक प्रोफेसर अक्सर भद्दे कमेंट करते हैं. छात्राओं ने इस मामले में पुलिस में भी एक शिकायत दर्ज कराई थी. छात्राओं की शिकायत पर पुलिस ने प्रोफेसर के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज कर लिया था. लेकिन छात्राएं इस मामले को रेप में दर्ज करने की मांग कर रही हैं.