नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में फीस में बढ़ोतरी और नए नियम मामले का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. जेएनयू के छात्र-छात्रा बड़ी संख्या में सड़कों पर उतर आए हैं. सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आगे बढ़ रहे छात्र-छात्राओं की पुलिस से झड़प हुई है. झड़प में कई स्टूडेंट्स के घायल होने की खबर है. इस विरोध को देखते हुए जेएनयू के आसपास के पहले ही धारा 144 लागू है. इस मार्च में छात्र Too Save Public Education का नारा लेकर कैंपस से मार्च लगाते हुए आगे बढ़ रहे हैं.

वहीं, पुलिस सुरक्षा को लेकर अलर्ट है. दिल्ली पुलिस ने बेर सराय रोड पर जेएनयू के छात्रों को रोक दिया है. इससे छात्रों और पुलिस के बीच गतिरोध बरकरार है. सुरक्षा के लिहाज से दिल्ली पुलिस ने 9 कंपनी फोर्स लगाई है. इसमें पैरा मिलिट्री फोर्स भी शामिल है. वहीं सुरक्षा में कोई कमी न हो इसलिए 1200 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. इसमें दिल्ली पुलिस के भी लोग शामिल हैं.

गौरलतब है कि जेएनयू प्रशासन द्वारा हॉस्टल की फीस प्रतिमाह 4200 रुपए किए जाने को लेकर पिछले तीन सप्ताह से विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. छात्रसंघ का कहना है कि जेएनयू में 40 प्रतिशत ऐसे छात्र पढ़ने आते हैं जो गरीबी रेखा से नीचे आते हैं. ऐसे में वो अपनी पढ़ाई का खर्चा नहीं उठा सकते हैं.

बीते दिनों जेएनयू परिसर में लगी स्वामी विवेकानंद की मूर्ति को लेकर बवाल मच गया था. यहां कुछ असमाजिक तत्वों ने मूर्ति पर अभद्र टिप्पणी की थी. यहीं नहीं विवेकानंद की मूर्ति के साथ हुए खिलवाड़ को लेकर यह विवाद सुर्खियों में बना रहा. हालांकि इस मामले की जांच की जा रही है. जेएनयू प्रशासन का कहना है कि उचित आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.