Johnson & Johnson Covid-19 Vaccine: कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट ने जहां एक तरफ दुनिया की चिंता बढ़ा दी है वहीं इन सबके बीच राहत की एक खबर ये है कि जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी ने दावा किया है कि उनकी वैक्सीन की एक सिंगल डोज ही कोरोना के डेल्टा वेरिएंट को बेअसर करने में असरदार है. कंपनी ने कहा है कि इस वैक्सीन की सिंगल डोज कोरोना के डेल्टा वेरिएंट के साथ ही सार्स ग्रुप के अन्य वायरस के वेरिएंट पर भी असरदार है. इसके साथ ही कंपनी ने यह भी दावा किया है कि इनका टीका वायरस से टिकाऊ सुरक्षा प्रदान करता है.Also Read - Coronavirus cases In India: 3 लाख से कम हुए कोरोना के एक्टिव मामले, 24 घंटे में 26,041 लोग हुए संक्रमित

बता दें कि कोरोना के डेल्टा वेरिएंट के मामले बढ़ने के बाद इसके डर से कई देशों ने कोरोना प्रतिबंध एक बार फिर से लागू कर दिया है. कई रिपोर्टों में दावा किया गया कि यह वेरिएंट इतना खतरनाक है कि इस पर वैक्सीन भी असर नहीं करती है. इस वजह से इस वेरिएंट का डर पूरी दुनिया में फैल गया है. Also Read - MP: महू छावनी में कोरोना से संक्रमित 7 और लोग मिले, 48 घंटे में नए मरीजों की संख्‍या 37 पर पहुंची

डेल्टा वेरिएंट को मात देने में सक्षम है जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन  Also Read - UNGA के 76वें सत्र को आज संबोधित करेंगे पीएम मोदी, वंदे मातरम-भारत माता की जय से गूंजा न्यूयॉर्क, देखें वीडियो

कंपनी ने बयान जारी करते हुए कहा है कि इसकी कोविड -19 वैक्सीन लेने वाले लोगों ने डेल्टा सहित सभी वेरिएंट के खिलाफ कम से कम आठ महीने के दौरान मजबूत न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडी पैदा की हैं. कंपनी ने यह भी कहा है कि इसका टीका वायरस पर 85 प्रतिशत प्रभावी है और यह अस्पताल में मरीजों के भर्ती होने और वायरस से होने वाली मौतों को रोकने में भी मदद कर सकता है.

जॉनसन एंड जॉनसन के अनुसंधान प्रमुख मथाई मैमेन ने कहा, हमारा आठ महीनों तक अध्यन किया गया डेटा दिखाता है कि जॉनसन एंड जॉनस का सिंगल डोज टीका शरीर में मजबूत न्यूट्रलाइज़िंग एंटीबॉडी प्रतिक्रिया उत्पन्न करता है, जो आगे जाकर कम नहीं होती है.”