भोजपुर. बिहार के भोजपुर जिले में सड़क हादसे में एक पत्रकार सहित दो लोगों की मौत हो गई. मृतक के परिजन और गांव वाले इसे साजिशन हत्या बता रहे हैं. हत्या का आरोप इलाके के ही दबंग पूर्व मुखिया पति और उसके परिजनों पर लगा है. वारदात आरा-सासाराम स्टेट हाई-वे पर गड़हनी थाना क्षेत्र के पास अंजाम दिया गया. मृतकों में गड़हनी थाना के बगवां गांव निवासी नवीन निश्चल और विजय सिंह हैं. नवीन एक हिंदी अख़बार दैनिक भास्कर के लिए काम करते थे. Also Read - PHOTOS: पत्रकार शुजात बुखारी के अंतिम संस्कार में पहुंचे हजारों कश्मीरी

रामनवमी जुलूस के बाद घर लौट रहे थे पत्रकार विजय
बताया जा रहा है कि बीती रात नवीन निश्चल रामनवमी जुलूस के बाद अपने साथी विजय कुमार के साथ बाइक पर गडहनी से अपने गांव बगवां लौट रहे थे. इसी दौरान नहसी के पास पीछे से जा रही पूर्व मुखिया की तेज रफ़्तार स्कार्पियो ने बाइक में जोरदार टक्कर मार दी. टक्कर के बाद बाइक सड़क से करीब 30 फीट दूर जाकर गिरी, जबकि स्कॉर्पियो असंतुलित होने के बाद पेड़ से टकराकर सड़क के किनारे गड्ढे में जा खड़ी हुई. बाइक पर सवार दोनों लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. सूचना मिलते ही गड़हनी थाना की पुलिस दल बल के साथ घटना स्थल पर पहुंची तबतक लोग स्कॉर्पियो को आग के हवाले कर चुके थे. हालांकि, चालक सहित स्कॉर्पियो पर सवार भाग निकले. Also Read - शुजात बुखारी हत्या: पुलिस ने हमलावरों की फोटो जारी की, लोगों से भी की खास अपील

ये कह रहे हैं लोग
हादसे की सूचना के बाद लोगों का गुस्सा भड़क उठा. उन्होंने स्कॉर्पियो को फूंक दिया और शव के साथ रोड जाम कर दिया. मौके पर मौजूद लोगों का कहना है, ‘साजिशन इस घटना को अंजाम दिया गया है. गड़हनी के पूर्व मुखिया शाहिदा प्रवीण के पति हरसू मियां से रविवार की शाम गड़हनी बाजार के पास पान के दुकान पर नोकझोक हुई थी. इसके बाद वहां से घर लौटने के दौरान पूर्व मुखिया के पति ने खुद गाड़ी ड्राइव कर वारदात को अंजाम दिया.’ Also Read - Congress, BJP observe bandh in Tripura | पत्रकार की हत्या के विरोध में बीजेपी, कांग्रेस का त्रिपुरा बंद

गाड़ी को लगा दी आग
बताया जा रहा है कि वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधियों ने इस्तेमाल की गई गाड़ी को भी साक्ष्य छिपाने के लिए आग के हवाले कर दिया और मौके से फरार हो गए. सड़क जाम को हटाने के लिए पुलिस ने अंधेरे का फायदा उठा कर जम कर लाठिया भी भांजी.

परिजनों का बुरा हाल
नवीन सिंह और उनके साथी की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. मृतक पत्रकार नवीन सिंह दो भाइयों में बड़े थे. छोटा भाई राजेश कुमार पटना जिला पुलिस में कार्यरत है. उनके परिवार में पत्नी नीतू देवी, 18 साल की निहारिका और 15 साल का बेटा नितिन है. मृतक विजय कुमार के घर में उनकी पत्नी और दो मासूम बच्चे हैं. पत्रकार नवीन निश्चल के बेटे ने हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस मौके पर पहुंचकर छानबीन में जुट गई है.

ये कह रहे हैं एसपी
भोजपुर एसपी अवकाश कुमार के निर्देश पर गड़हनी और चरपोखरी सहित कई थानों की पुलिस कैंप कर रही है. इस मामले में आरा सदर एसडीपीओ ने बताया कि अमूमन ये साजिश ही लग रहा है. दो नामजद सहित चार लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. जांच के बाद दोषियों पर जल्द कार्रवाई की जाएगी.