Justice NV Ramana takes oath as the new CJI: जस्टिस एनवी रमना (Justice NV Ramana) ने आज शनिवार को भारत के 48 वें नए मुख्‍य न्यायाधीश के रूप में शपथ ग्रहण कर ली है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) ने उन्हें राष्ट्रपति भवन (Rashtrapati Bhavan) में पद और गोपनीयता की  शपथ दिलाई है. न्यायमूर्ति रमना ने ईश्वर को साक्षी मानकर अंग्रेजी में पद की शपथ ली.Also Read - दिल्ली: दो लोगों के बीच बहस में बचाव करना पड़ा भारी, एक शख्स की गोली मारकर हत्या, भाई घायल

Also Read - एक्सीडेंटल गाड़ियों के नंबर को चोरी की कार पर लगाकर बेचते थे, पुलिस ने पकड़ा जब गिरोह तो हुए चौंकाने वाले और भी खुलासे

न्यायमूर्ति एनवी रमन ने देश के 48वें प्रधान न्यायाधीश के तौर पर शनिवार को एक आयोजित एक संक्षित समारोह में शपथ ली. Also Read - इस वीकएंड घूमिये दिल्ली की ये मार्केट और करिये जमकर शॉपिंग, यहां सस्ते मिलते हैं कपड़े

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें पद की शपथ दिलाई. जस्टिस रमना 26 अगस्त 2022 को रिटायर होंगे. राष्ट्रपति भवन में आयोजित सादे शपथ समारोह के दौरान समारोह में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद उपस्थित थे.

जस्टिस रमना का जन्म 27 अगस्त 1957 को आंध्रप्रदेश के कृष्णा जिले के पोन्नवरम गांव में हुआ था. उन्‍होनें 10 फरवरी 1983 को आंध्र प्रदेश में अपने गृह जिले में वकालत करना शुरू की थी. जस्टिस रमना 27 जून 2000 को वे आंध्रप्रदेश के हाईकोर्ट में जज बने. इसके बाद जस्टिस रमना को फरवरी 2014 में सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त किया गया था.