पटना: जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन (जेएनयूएसयू) के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार के तौर पर महागठबंधन (राजद, कांग्रेस, हम और राकांपा) के सहयोग से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ेंगे. भाकपा के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने बताया कि उनकी पार्टी सहित सभी वामदल चाहते हैं कि कन्हैया कुमार बेगूसराय से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ें. उन्होंने कहा कि राजद और कांग्रेस जैसे अन्य दल भी चाहते हैं कि वह चुनाव लड़ें. Also Read - बिहार में चुनावों के बीच कोरोना संक्रमितों की संख्या 2.09 लाख पहुंची, अब तक 1.97 हुए स्वस्थ

Also Read - Video चिराग बोले-PM Modi की तस्‍वीर की जरूरत नहीं, वह मेरे दिल में रहते हैं, मैं उनका हनुमान हूं

पीएम मोदी का विपक्ष पर तंज, इन दिनों अनुशासन को निरंकुशता करार दिया जाता है Also Read - Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव में 'राम-रावण' की 'एंट्री'! जानिए क्या है मामला

राजद प्रमुख लालू प्रसाद के भी इस संबंध में अपनी सहमति दिए जाने की चर्चा के बारे में सत्यनारायण ने कहा कि पूर्व में उनसे हुई वार्ता के दौरान वह एक सीट कन्हैया कुमार के लिए छोड़ देने को लेकर राजी थे. उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी ने अगले आम चुनाव में बिहार में छह लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है, लेकिन इस बारे में अंतिम निर्णय हमख्याल दलों के साथ वार्ता के बाद लिया जाएगा.

अखिलेश का बयान, बोले- सपा को कम सीटें मिलें फिर भी गठबंधन को तैयार, BJP को हराना है मकसद

जिन छह सीटों पर भाकपा अपना उम्मीदवार उतारना चाहती है, उनमें बेगूसराय, मधुबनी, मोतिहारी, खगड़िया, गया और बांका शामिल हैं. यह पूछे जाने पर कि क्या कन्हैया कुमार ने बेगूसराय से चुनाव लड़ने को लेकर अपनी सहमति दी है तो सत्यनारायण ने कहा कि इसके लिए वह राजी हैं.उन्होंने कहा कि हालांकि कन्हैया बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार होंगे पर महागठबंधन के घटक दलों राजद, कांग्रेस, हम सेक्युलर और राकांपा और अन्य वामदलों का उन्हें समर्थन प्राप्त होगा .

RLD नेता जयंत चौधरी ने कहा- लोकसभा चुनाव के लिए हम सपा-बसपा-कांग्रेस से गठबंधन चाहते हैं

कन्हैया बेगूसराय जिला के बरौनी प्रखंड अंतर्गत बिहट पंचायत के मूल निवासी हैं जबकि उनकी मां एक आंगनवाड़ी सेविका और उनके पिता एक छोटे किसान हैं. कभी वामपंथियों का गढ़ माने जाने वाले बेगूसराय से वर्तमान में सांसद भाजपा के वरिष्ठ नेता भोला सिंह हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में राजद उम्मीदवार तनवीर हसन दूसरे और भाकपा उम्मीदवार राजेंद्र प्रसाद सिंह, जदयू के समर्थन से तीसरे स्थान पर रहे थे.