College Hostels Reopening in Bengaluru City: बेंगलुरु सिटी में कॉलेज और हॉस्टल एक बार फिर खोलने का फैसला किया गया है. कॉलेज और हॉस्टल आज से खुल रहे हैं. इसके लिए नियम और एहतियात के ज़रूरी कदमों की जानकारी भी जारी कर दी गई है. कॉलेज और हॉस्टल में सिर्फ वही लोग आ पाएंगे, जिनका कोरोना टेस्ट निगेटिव आया हो. इसके साथ ही मास्क लगाना अनिवार्य होगा. Also Read - मध्य प्रदेश में कोरोना मामलों में फिर तेजी, 24 घंटे में 1514 मरीज बढ़े, अब तक 3250 मौतें

कर्नाटक सरकार ने बेंगलुरु सिटी में कॉलेज और हॉस्टल खोलने का फैसला किया है. इसके लिए गाइडलाइन भी जारी कर दी गई है. यूजीसी ने भी नियम जारी किये हैं. नियम के अनुसार, कॉलेज और हॉस्टल में छात्र, टीचर और नॉन टीचिंग स्टाफ को आदेश दिए गये हैं कि वह कोरोना का आरटीपीसीआर टेस्ट कराकर ही आयें. उन्हें तभी प्रवेश मिलेगा जब ये रिपोर्ट निगेटिव आई होगी. Also Read - दिल्ली में कुछ राहत: 24 दिनों में पहली बार सबसे कम 68 कोरोना मरीजों की मौत, करीब 5 हज़ार मामले सामने आए

एक शर्त ये भी है कि ये टेस्ट एंट्री से 72 घंटे कराया गया हो. कई दिन पहले का टेस्ट नहीं चलेगा. बेंगलुरु सिटी में करीब 432 कॉलेज हैं. इनमें 60 हज़ार से ज्यादा स्टूडेंट्स, टीचिंग, और नॉन टीचिंग स्टाफ है. गाइडलाइन भी ये भी कहा गया है कि स्टाफ और स्टूडेंट्स अपने पास के पीसीएच में सुबह नौ बजे से 5 बजे तक करा सकते हैं. Also Read - वैक्सीन की 30 से 40 करोड़ खुराक चाहता है भारत, कंपनी ने कहा- हम तैयार हैं

इसके साथ ही शिक्षण संस्थानों, कॉलेज के पास भी टेस्ट किये जायेंगे. इसके लिए 450 मोबाइल स्वेब कलेक्शन टीम मौजूद रहेंगी. उम्मीद की जा रही है कि कॉलेज शुरू होने के शुरूआती दौर में आने वाले छात्रों की संख्या 30 प्रतिशत रहेगी. और इतने स्टूडेंट्स का टेस्ट मोबाइल टीम्स द्वारा किया जा सकता है. इसमें बमुश्किल एक से दो दिन लगेंगे.

टीम द्वारा जो टेस्ट किये जायेंगे, उनकी रिपोर्ट 24 घंटे के अन्दर आ जाएगी. मेडिकल अफसर इस पूरी प्रक्रिया पर नज़र रखेंगे. टेस्ट की रिपोर्ट्स को आईसीएमआर पोर्टल पर भी डाला जायेगा. टेस्ट रिपोर्ट्स को वेबसाइट https://www.covidwar.karnataka.gov.in पर भी देखा जा सकता है.