विजयपुरा: कर्नाटक के विजयपुरा में एक 32 वर्षीय दलित को 13 लोगों ने नंगा करके सिर्फ इसलिए पीटा, क्योंकि उसने कथित तौर पर ऊंची जाति के व्यक्ति की बाइक छू दी थी. विजपुरा जिले के पुलिस अधीक्षक अनुपम अग्रवाल ने संवाददाताओं से कहा, “पीड़ित दलित (काशीनाथ तलवार) की शिकायत पर हमने 13 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. 18 जुलाई को तालिकोटी के पास मिनाजगी गांव में हुई इस घटना की जांच की जा रही है.” Also Read - भाजपा विधायक ने दिए बगावत के संकेत, बोले- येदियुरप्पा लंबे समय तक मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे

अनुपम अग्रवाल ने पीड़ित द्वारा दर्ज की गई शिकायत के हवाले से कहा- काशीनाथ तलवार नामक इस शख्स ने दावा किया है कि उसने गलती से बाइक को छुआ था और इसके लिए माफी भी मांगी थी. फिर भी आरोपियों ने उसे डंडे और जूतों से बुरी तरह पीटा. जब वह सड़क पर लेट गया तो उन्होंने उसकी पैंट उतार दी.” मारपीट का एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया है. इसके चलते ऊंची जाति के आरोपियों के खिलाफ जिले में आक्रोश फैल गया है. विजयपुरा शहर बेंगलुरू से 524 किमी दूर उत्तर पश्चिम में है. Also Read - दलितों के खिलाफ बढ़ा अत्याचार, सबसे मुश्किल दौर से गुजर रहा है भारतीय लोकतंत्र : सोनिया गांधी

अनुपम अग्रवाल ने कहा, “एससी/एसटी अधिनियम के तहत आरोपियों के खिलाफ की गई मारपीट की शिकायत पर आईपीसी (भारतीय दंड संहिता) की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.” तलवार के पिता यनकप्पा ने यह भी आरोप लगाया कि जब उन्होंने अपने बेटे को बेरहमी से मारे जाने के दौरान बचाने की कोशिश की तो आरोपियों ने उन पर, उनकी पत्नी और उनकी बेटी पर भी हमला कर दिया. Also Read - Indian Railway: दीवाली-छठ से पहले कर्नाटक से चलाई जाएंगी 22 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें, जानें रूट्स और टाइमिंग

इसी से जुड़े मामले में गांव की दो-तीन महिलाओं ने भी पुलिस में तलवार के खिलाफ कथित तौर पर छेड़-छाड़ करने की शिकायत दर्ज कराई है. अग्रवाल ने कहा, “हमने तलवार से उसके आचरण के बारे में पूछताछ करने के लिए उसे तलब किया है. महिलाओं ने आरोप लगाया कि उसने उन्हें छेड़ा, अनुचित तरीके से छुआ और जब वे अपने घर के बाहर कपड़े धो रहीं थीं तो तलवार ने अपना प्राइवेट पार्ट दिखाया.” तलवार इसी गांव में एक दिहाड़ी मजदूर है.