बेंगलुरु: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने सोमवार को कहा कि महाराष्ट्र के उनके समकक्ष उद्धव ठाकरे राजनीतिक लाभ के लिए बेलगाम सीमा मुद्दे को फिर से उठा रहे हैं और राज्य की एक इंच भी जमीन नहीं दी जाएगी.Also Read - Maharashtra Unlock: कम कोरोना केस वाले जिलों में अब रात 8 बजे तक खुलेंगी दुकानें, जानें क्या बोले उद्धव ठाकरे

येदियुरप्पा ने कहा, ”यह महाजन रिपोर्ट में ही तय हो गया था कि महाराष्ट्र के पास क्या रहेगा और कर्नाटक के पास क्या रहेगा. राजनीतिक लाभ के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं. मैं इसकी निंदा करता हूं. एक भी इंच जमीन देने का सवाल ही पैदा नहीं होता है.’’ Also Read - Maharashtra Unlock Latest Update: अनलॉक पर महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे का बड़ा ऐलान- की यह घोषणा...

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि मुख्यमंत्री मराठी और कन्नड़ भाषा बोलने वाले लोगों के बीच दरार पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं. Also Read - Maharashtra में बिहार के मंत्री के बोल- बिहार में काम करना हमारे लिए बहुत चुनौतीपूर्ण...बहुत कुछ सहना पड़ता है

येदियुरप्पा ने कहा, ”हमारे लोगों को शांति और भाईचारा बनाए रखना चाहिए टज्ञेश्र कर्नाटक की एक इंच भी जमीन देने का सवाल ही पैदा नहीं होता है. किसी ने बयान दे दिया तो इसको लेकर संशय पैदा करने की कोई जरूरत नहीं है. मैं अपने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं.”

बेलगाम पर महाराष्ट्र अपना दावा करता है, जहां मराठी भाषी लोगों की खासी आबादी रहती है, लेकिन यह जिला अभी कर्नाटक में आता है. बेलगाम विवाद को देखते हुए रविवार को महाराष्ट्र के कोल्हापुर से कर्नाटक जाने वाली बस सेवा भी निलंबित कर दी गई थी लेकिन अब उसे बहाल कर दिया गया है.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस महीने की शुरुआत में दो मंत्रियों छगन भुजबल और एकनाथ शिंदे को कर्नाटक सरकार के साथ सीमा विवाद से संबंधित मामलों पर बातचीत तेज करने के सरकार के प्रयासों को देखने के लिए समन्वयक बनाया था.