नई दिल्ली: कर्नाटक विधानसभा चुनाव में 222 सीटों के लिए मतदान शनिवार को संपन्न हो गया और एग्जिट पोल में त्रिशंकु विधानसभा के आसार नजर आ रहे हैं. सात एग्जिट पोल में से पांच में किसी पार्टी को बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है. सर्वे के आकलन से कहा जा रहा है कि जेडीएस बीजेपी और कांग्रेस की राह में रोड़ा अटका सकता है. कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कुल 224 सीटें हैं और बहुमत के लिए 112 सीटें जरूरी हैं. रिपब्लिक-जन की बात सर्वे में जहां बीजेपी को 114 सीटें मिलती दिख रही हैं, वहीं इंडिया टुडे-एक्सिस माय इंडिया के सर्वे में कांग्रेस को अधिकतम 118 सीटें दी गई हैं. इसके अलावा एबीपी-सीवोटर, न्यूज एक्स-सीएनएक्स, टाइम्स नाउ-वीएमआर, न्यूज नेशन और इंडिया टीवी-वीएमआर के सर्वे में किसी को भी बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है.

1.एबीपी-सीवोटर के एग्जिट पोल में भाजपा को 97 से 109 सीटें, कांग्रेस को 87 से 99 सीटें, जेडीएस को 21 से 30 सीटें और अन्य को एक से आठ सीटें मिलती दिख रही हैं.

2.इंडिया टुडे-एक्सिस के सर्वे में भाजपा को 79-92 सीटें, कांग्रेस को 106-118 सीटें, जेडीएस को 22-30 सीटें और अन्य को एक-चार सीटें मिलने की बात कही गई हैं.

3.इंडिया टीवी-वीएमआर के सर्वे में भाजपा को 87, कांग्रेस को 97, जेडीएस को 35 और अन्य को तीन सीटें मिलने की बात कही गई हैं.

4.रिपब्लिक-जन की बात सर्वे में भाजपा को 95-114, कांग्रेस को 73-82, जेडीएस को 32-43 और अन्य को दो-तीन सीटें मिलती दिख रही हैं.

5.न्यूज नेशन के सर्वे में भाजपा को 105-109 सीटें, कांग्रेस को 71-75, जेडीएस को 36-40 सीटें और अन्य को तीन-पांच सीटें मिलने की बात कही गई है.

6.टाइम्स नाउ-वीएमआर के सर्वे में भाजपा को 80-93, कांग्रेस को 90-103 सीटें, जेडीएस को 31-39 सीटें और अन्य को दो-चार सीटें मिलती दिख रही हैं.

7.न्यूज एक्स-सीएनएक्स के सर्वे में भाजपा को 102-110 सीटें, कांग्रेस को 72-78 सीटें, जेडीएस को 35-39 सीटें और अन्य को तीन-पांच सीटें मिलने की बात कही गई है.

2013 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को 40, कांग्रेस को 122, जेडीएस को 40 और अन्य के खाते में 22 सीटें आई थीं. गौरतलब है कि इस चुनाव में लगभग 3.5 करोड़ मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि वह आश्वस्त हैं कि उनकी पार्टी दोबारा सत्ता में आएगी. एक निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि शाम छह बजे तक 5.06 करोड़ से अधिक मतदाताओं में से 70 प्रतिशत से ज्यादा मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया.