बेंगलुरू: कर्नाटक भाजपा के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने शुक्रवार को कांग्रेस-जद(एस) से कहा कि अगर वह सरकार नहीं चला सकती तो सत्ता छोड़ दे. येदियुरप्पा ने यह भी कहा कि अगर गठबंधन टूटता है तो उनकी पार्टी स्थिति को संभाल लेगी और सुनिश्चित करेगी कि मध्यावधि चुनाव नहीं हों. Also Read - जम्मू-कश्मीर को मिले पूर्ण राज्य का दर्जा, इसके बाद कराए जाएं विधानसभा चुनाव: कांग्रेस

Also Read - Karnataka Lockdown Update: कर्नाटक के 16 जिलों में सोमवार से मिलेगी पाबंदियों में और ढील, जानिए क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

उन्होंने कहा कि कुमारस्वामी के बेटे (निखिल) ने जद(एस) कार्यकर्ताओं से चुनाव के लिए तैयार रहने को कहा है. मैं कह रहा हूं कि किसी भी कीमत पर चुनाव नहीं होंगे. विधानसभा चुनाव को एक साल ही हुआ है. हमारे 105 विधायक है. अगर वे सरकार चला सकते हैं तो चलाएं, अगर नहीं चला सकते तो छोड़ दें, हम चलाएंगे. हब्बाल्ली में संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने कहा कि किसी भी कारण से नये सिरे से चुनाव कराने का सवाल ही नहीं है. हम इस पर तैयार नहीं होंगे. हम पांच साल बाद ही चुनाव कराएंगे. किसी को विश्वास नहीं है कि यह सरकार लंबी चलेगी. देखते हैं. Also Read - इस राज्य में इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए फ्री में मिल रहा है दूध, कक्षा 1 से 10 तक के छात्रों को खास सुविधा

वीरप्पा मोइली ने राहुल गांधी से कहा- जिम्मेदारी संभालिये, खत्म करिए कांग्रेस में फैला असंतोष

येदियुरप्पा सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें निखिल को कहते सुना जा सकता है कि जद(एस) कार्यकर्ता खुद को विधानसभा चुनावों के लिए तैयार करें. कोई नहीं जानता कि कब चुनाव आ जाएं. लोकसभा चुनाव में राज्य में भाजपा के अच्छे प्रदर्शन पर पूर्व मुख्यमंत्री ने पिछले हफ्ते कहा था कि बेहतर होता यदि सत्तारूढ़ कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन विधानसभा भंग करके नये सिरे से चुनाव कराए.