बेंगलुरूः कर्नाटक की सियासत में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. आए दिन राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस-JD(S) गठबंधन के विधायकों के पाला बदलने की खबरें आती रहती हैं. ताजा विवाद राज्य के भाजपा के वरिष्ठ विधायक उमेश कट्टी के बयान से पैदा हुआ है. कट्टी ने बुधवार को दावा किया कि वह कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन से नाखुश चल रहे 15 विधायकों के संपर्क में हैं और यदि वे पार्टी में आना चाहें तो उनका स्वागत किया जाएगा. Also Read - मैं पार्टी में जाति, धर्म आधारित प्रकोष्ठ के पक्ष में नहीं हूं: नितिन गडकरी

आठ बार से विधायक कट्टी ने दावा किया कि भाजपा अगले सप्ताह तक नई सरकार बनाएगी. हालांकि इस दावे पर कांग्रेस ने बेहद कड़ी प्रतिक्रिया दी है. प्रदेश कांग्रेस प्रमुख दिनेश गुंडु राव ने पलटवार करते हुए कहा कि लोगों को भ्रमित करने के लिए काल्पनिक बयान न दें. कर्नाटक में हाल ही में हुए कैबिनेट विस्तार में मंत्री पद नहीं पाने के कारण कांग्रेस विधायकों में चल रही नाराजगी के बीच कट्टी का यह बयान आया है. हालांकि भाजपा के प्रदेश प्रमुख बीएस येदियुरप्पा ने एक अलग बयान में कहा कि पार्टी कांग्रेस के किसी भी विधायक के संपर्क में नहीं है. Also Read - हैदराबाद का यह भाग्‍यलक्ष्‍मी मंदिर नगर निगम की चुनावी जंग के बीच क्‍यों बना सुर्खियों का केंद्र

(इनपुट-भाषा) Also Read - रोहिंग्या शरणार्थी के मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने असदुद्दीन ओवैसी पर किया पलटवार