बेंगलुरुः कर्नाटक में भाजपा के एक विधायक ने मंगलवार को आरोप लगाया कि दिल्ली में तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल होने वालों में से कुछ लोग सरकार की अपील के बाद भी जानबूझकर कोरोना वायरस की जांच ना कराने के लिए छिपे हुए हैं. उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को गोली मारना ‘गलत नहीं’ होगा.Also Read - एक दिन पहले सीएम बने बोम्मई ने जनता के लिए कर डाले इतने ऐलान, तारीफ कर रहे लोग

मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के राजनीतिक सचिव और विधायक एम पी रेणुकाचार्य ने कहा, कुछ लोगों की गलती के लिए पूरे समुदाय को दोष देना गलत है. Also Read - Sri Lanka vs India, 2nd T20I: दूसरे होटल में शिफ्ट हुए Krunal Pandya, टीम के साथ नहीं लौट सकेंगे भारत

उन्होंने कहा, ‘‘एक बात सच है प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के बार-बार अपील करने के बाद भी उनमें से कुछ लोग जानबूझकर धार्मिक कारणों का हवाला देते हुए छिपने की कोशिश कर रहे हैं.’’दावणगेरे में पत्रकारों से बात करते हुए भाजपा विधायक ने कहा कि ऐसा लगता है कि वे खुद तो मर रहे हैं, दूसरों को भी मारना चाहते हैं. यदि वे जमात में भाग लेने के बाद वापस लौटते ही डॉक्टर के पास चले जाते तो कोई समस्या नहीं होती . Also Read - Atal Bimit Vyakti Kalyan Scheme: बेरोजगारों को सरकार ने 3 महीने तक दिया पैसा, कोरोना काल में गई नौकरी तो 30 दिनों के अंदर करें दावा

इस बीच, मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने सोमवार को एक समाचार चैनल को साक्षात्कार के दौरान इन घटनाओं के लिए पूरे मुस्लिम समुदाय को दोषी ठहराने वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी थी.