नई दिल्‍ली: कर्नाटक से लेकर दिल्‍ली के बीच मचे सियासी घमासान के बीच कांग्रेस-जेडीएस सरकार गिरने पर संभावित सीएम का ये चेहरा मंगलवार को राजनीति की पिच से लेकर खेल के मैदान तक बैटिंग करते हुए नजर आया. जी हां यहां बात हो रही है कर्नाटक के पूर्व सीएम और राज्‍य के बीजेपी प्रमुख बीएस येदियुरप्‍पा की. आज जहां दिल्‍ली में कर्नाटक सरकार से बगावत कर चुके 15 विधायकों, स्‍पीकर आर रमेश कुमार और मुख्‍यमंत्री एचडी कुमार स्‍वामी के पक्ष को सुप्रीम कोर्ट सुन रही थी, वहीं, दूसरी येदियुरप्‍पा बेंगलुरु में अपनी पार्टी के विधायकों के साथ क्रिकेट खेलते हुए दिखाई दे रहे थे.

कर्नाटक संकट: स्‍पीकर व बागी 15 MLA की याचिका पर सुनवाई पूरी, SC सुबह देगा फैसला

बीजेपी के एमएलए बेंगलुरु के रामदा होटल में रुके हुए हैं, जहां येदियुरप्‍पा उनके साथ क्रिकेट खेला.वह हाथ में बैट लिए हुए बैटिंग करते हुए दिखाई दे रहे हैं. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष को कांग्रेस-जद(एस) के 15 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार करने का निर्देश देने के लिए दायर याचिका पर मंगलवार को सुनवाई पूरी कर ली. कोर्ट इस मामले में बुधवार को सुबह 10:30 बजे फैसला सुनाएगा. इस बीच, विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार ने न्यायालय से अनुरोध किया कि उन्हें बागी विधायकों के इस्तीफों पर निर्णय लेने के लिए बुधवार तक का वक्त दिया जाए. साथ ही उन्होंने कोर्ट से इस मामले में यथास्थिति बनाए रखने संबंधी पहले के आदेश में सुधार करने का भी अनुरोध किया.

खास बात ये हैं कि बीते बुधवार को येदियुरप्पा ने कहा था कि अगले 4-5 दिन में बीजेपी सरकार बनाएगी. भाजपा की कर्नाटक इकाई के प्रमुख का दावा ऐसे वक्त आया है जब विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार ने मुख्यमंत्री कुमारस्वामी द्वारा दिए गए विश्वास मत के प्रस्ताव पर 18 जुलाई को चर्चा का वक्त दिया था. बता दें कि मारस्वामी की सरकार 15 विधायकों के इस्तीफे के बाद गिरने के कगार पर है. येदियुरप्पा ने कहा, ”मुझे पूरा भरोसा है कि अगले तीन-चार दिन में भाजपा सरकार अस्तित्व में आ जाएगी. भाजपा कर्नाटक में श्रेष्ठ प्रशासन देगी.

कर्नाटक में 224 सदस्यीय विधानसभा में 105 सीटें जीकर कर सबसे बड़े दल के रूप में उभरी भाजपा की तरफ से विश्वास मत के दौरान जरूरी आंकड़े नहीं जुटा पाने के बाद येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था. अगर 16 विधायकों का इस्तीफा स्वीकार हो जाता है, तो गठबंधन का आंकड़ा मौजूदा 116 से घटकर 100 रह जाएगा. (इनपुट एजेंसी)