बेंगलुरु. कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी अपनी गठबंधन सरकार का पहला बजट गुरुवार को पेश करेंगे. कर्नाटक सरकार के इस बजट से सबसे ज्यादा उम्मीद किसान लगाए बैठे हैं. वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि उन्हें भरोसा है कि कर्नाटक सरकार किसानों की कर्जमाफी के वादे को पूरा करेगी. Also Read - Kisan Rail: आज से चलेगी देश की पहली किसान रेल, यूपी-बिहार सहित इन राज्यों के किसानों को होगा फायदा, जानें रूट

बता दें कर्नाटक चुनाव के दौरान ही कांग्रेस और जेडीएस ने वादा किया था कि उनकी सरकार आने के बाद किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा. इसमें वे सभी किसान शामिल हैं जो या तो कोऑपरेटिव बैंक से लोन लिए हैं या फिर किसी राष्ट्रीय बैंक से. Also Read - अमित शाह के बाद कर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा हुए कोरोना संक्रमित, जानें किस किसको हुआ कोरोना

सीएम कुमारस्वामी राज्य का वित्त मंत्रालय भी अपने पास ही रखे हैं. उन्होंने कहा था कि राज्य की वित्त स्थिति को देखते हुए किसानों के कर्जमाफी में देरी हो रही है. बता दें कि कुछ वित्त मामलों के जानकारों ने कहा था कि किसानों के कर्ज माफी से राज्य की आर्थिक स्थिति पर असर पड़ सकता है. Also Read - किसानों को शिक्षित करने में कृषि विज्ञान केंद्रों को महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है: कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर

दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज विश्वास जताया कि सरकार अपने चुनावी वादे के मुताबिक किसानों का कर्ज माफ करेगी और यहीं से पूरे देश के किसानों के लिए उम्मीद पैदा होगी. गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘कर्नाटक में बजट की पूर्व संध्या पर मुझे पूरा भरोसा है कि कांग्रेस-जद(एस) सरकार किसानों की कर्जमाफी करने और खेती को अधिक मुनाफे का काम बनाने के हमारे वादे को पूरा करेगी.’ उन्होंने कहा, ‘‘यह बजट पूरे देश के किसानों की खातिर कर्नाटक को आशा की किरण बनाने के लिए हमारी सरकार के पास एक अवसर की तरह है.’