नई दिल्ली: बहन की शादी के लिए छुट्टी नहीं मिलने पर एमडी कर रहे एक डॉक्टर ने सुसाइड कर ली. डॉक्टर की उम्र 30 साल बताई जा रही है. घटना के बाद विभाग के एचओडी पर डॉक्टर का उत्पीड़न करने का आरोप लगा है.

मामला कर्नाटक के रोहतक का है. यहां के पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस में ओंकार नाम के डॉक्टर द्वारा एमडी (डॉक्टर ऑफ मेडिसिन) का कोर्स किया जा रहा था. ओंकार का ये कोर्स पीडिएट्रिक्स (बाल रोग) के तहत था. बताया जा रहा है कि ओंकार की बहन की शादी थी. इसके लिए उसने अपने विभाग के एचओडी से छुट्टी मांगी, लेकिन एचओडी ने छुट्टी देने से इंकार कर दिया.

इससे ओंकार सदमे में आ गया और उसने अपने अपने कमरे में पंखे से लटक पर फांसी लगा ली. कर्नाटक के धारवाड़ के रहने वाले ओंकार ने तनाव में आकर ये खौफनाक कदम उठा लिया. परिजनों ने एचओडी पर आरोप लगाए हैं.

रोहतक एसएचओ कैलाश चंदर ने बताया कि फांसी हॉस्टल के कमरे में लगाई गई है. डॉक्टर ने कोई सुसाइड नोट नहीं छोड़ा है. उन्होंने बताया कि डिपार्टमेंट हेड द्वारा उत्पीड़न की बात कही जा रही है. इसके बाद ओंकार ने ऐसा कदम उठाया. उन्होंने बताया कि उत्पीड़न करने के आरोप में एचओडी के खिलाफ धारा 306 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है. घटना की जांच की जा रही है.