Live Updates

  • 9:49 PM IST

    सभी विधायक बेंगलुरू में हैं, बीजेपी हम पर धोखाधड़ी का आरोप लगा रही है जबकि असल में वह ऐसा कर रही है. हमें सुप्रीम कोर्ट पर पूरा भरोसा है, वो गर्वनर जैसी गलती नहीं दोहराएगी- गुलाम नबी आजाद, कांग्रेस नेता

  • 9:46 PM IST

  • 8:37 PM IST

    जेडीएस सुप्रीमो एचडी देवेगौड़ा ने की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से बात

  • 8:37 PM IST

  • 8:27 PM IST

    राज्यपाल वजुभाई वाला ने प्रभुलिंग के. नवाड्गी को कर्नाटक का एडवोकेट जनरल नियुक्त किया. उन्हें मधुसूदन आर नायक की जगह नियुक्त किया गया है जिन्होंने अपने पद से इस्तीफा दिया था.

  • 8:25 PM IST

  • 8:05 PM IST

    पूर्व सीएम सिद्धारमैया बोले- विधायकों की खरीद फरोख्त में लगी है बीजेपी

  • 8:05 PM IST

  • 8:04 PM IST

    कुमारस्वामी ने कहा, ये हमारी जिम्मेदारी है कि अपने विधायकों को सुरक्षा दें. येदियुरप्पा का व्यवहार देखकर चकित हूं. सीएम पद की शपथ लेने के बाद उन्होंने 4 आईपीएस का तबादला भी कर दिया है.

  • 8:03 PM IST

नई दिल्लीः कर्नाटक विधानसभा चुनाव में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिलने के बाद राज्य में सरकार बनाने का नाटक चरम पर पहुंच चुका है. एक तरफ राज्यपाल वजूभाई वाला ने भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा से सरकार बनाने को कहा है वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने मौका नहीं मिलने पर पूरी रात सुप्रीम कोर्ट में अपनी दलाली पेश करती रही. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: भाजपा के मेनिफेस्टो पर मचा बवाल, तो BJP ने किया पलटवार

इससे पहले बुधवार देर शाम राज्‍यपाल के इस आमंत्रण के साथ ही राज्‍य में पिछले 24 घंटे से चल रही राजनीतिक अनिश्चितता का अंत हुआ. बता दें कि राज्‍य में 12 मई को हुए विधानसभा चुनावों के नतीजे 15 मई को आए थे. इसमें किसी पार्टी को बहुमत नहीं मिला था जबकि सबसे ज्‍यादा सीटें भाजपा को मिली थीं. नतीजे आने के ठीक बाद कांग्रेस और जेडीएस ने गठबंधन का फैसला किया और अगले दिन राज्‍यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया. इधर सबसे बड़ी पार्टी होने के दम पर भाजपा भी सरकार बनाने के लिए राज्‍यपाल से आमंत्रण का दावा पेश कर चुकी थी. Also Read - बिहार: कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय से 8 लाख रुपए बरामद, इनकम टैक्स अफसरों ने रणदीप सिंह सुरजेवाला से की पूछताछ

विधायकों की खरीद-फरोख्‍त के आरोपों के बीच राज्‍यपाल के फैसले का पहला अंदाजा बुधवार शाम कांग्रेस नेता पी चिदंबरम की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस और प्रकाश जावड़ेकर के इशारों से मिल गया था. चिदंबरम ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में अंदेशा जताया था कि राज्‍यपाल येदियुरप्‍पा को सरकार बनाने का आमंत्रण दे चुके हैं. इसके थोड़ी देर बाद भाजपा के कर्नाटक प्रभारी और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से मीडियाकर्मियों ने इस बारे में पूछा तो उन्‍होंने कुछ बोलने की बजाय विक्‍ट्री साइन (जीत का निशान) दिखा दिया. Also Read - बिहार में मुफ्त वैक्सीन बांटने के वादे पर राहुल गांधी का बीजेपी पर हमला, RJD बोली- इसमें भी चुनावी सौदेबाजी, छी-छी