नई दिल्ली/ बेंगलुरु: कर्नाटक में कांग्रेस के एक विधायक ने बीजेपी नेताओं पर मंत्री पद का लालच देने का सनसनीखेज आरोप लगाया है. ये दावा कांग्रेस एमएलए बीसी पाटिल ने सोमवार को किया है. पाटिल ने ये दावा कांग्रेस के एक अन्य एमएलए शिवराम हेब्बर के बयान के बाद किया, जिसमें हेब्बर ने कहा कि उन्हें रिश्वत देने के एक टेप के बारे में कांग्रेस नेताओं ने झूठ बोला है.

कांग्रेस एमएलए पाटिल ने कहा, ”उन्होंने (बीजेपी) मुझे मंत्री और सबकुछ देने के लिए कहा. ये एक सच है, मैं हेब्बर के बारे में नहीं जानता हूं. मैं केवल अपनी बात कर सकता हूं. येदियुरप्पा, श्रीरामुलु और मुरलीधर राव ने मुझसे कहा”.

कर्नाटक में त्रिशंक विधानसभा आने के बार विधायकों की खरीद फरोख्त की खबरें, दावे और प्रतिदावे खूब छाए रहे. कांग्रेस-जेडीएस और बीजेपी एक दूसरे पर आरोप लगाते रहें हैं.

कर्नाटक: कांग्रेस MLA की ‘पत्नी’ को BJP के फोन मामले में हुआ था बड़ा ‘खेल’, जानें पूरी कहानी

कांग्रेस MLA हेब्बर  ने बताया ऑडियो टेप फर्जी
कर्नाटक में येदियुरप्प के बहुमत साबित से पहले कांग्रेस ने छह ऑडियो क्लिप जारी किए गए थे. इसमें दावा किया गया था कि बीजेपी से जुड़े नेताओं ने कांग्रेस विधायकों और उनके परिवार को फोन करके समर्थन देने के लिए दबाव डाल रहे हैं और लालच दे रहे हैं. येल्लापुर से निर्वाचित कांग्रेस विधायक शिवराम हेब्बर ने कहा है कि उनकी पत्नी को बीजेपी से किसी तरह का कॉल नहीं आया था. कांग्रेस का ऑडियो टेप फर्जी है.

फेसबुक पेज पर दी सफाई 
शिवराम ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, मुझे इस बात के बारे में देर से मालूम हुआ कि न्यूज चैनलों पर मेरी पत्नी और बीजेपी नेताओं के बीच फोन पर संदेहास्पद बातचीत का कोई टेप चल रहा है. इसकी काफी चर्चा है. लेकिन, वह मेरी पत्नी की आवाज नहीं है. मेरी पत्नी ने कोई फोन रिसीव नहीं किया. इस टेप को रिलीज करने वाले पर धिक्कार है. फर्जी ऑडियो टेप की मैं निंदा करता हूं. उन्होंने कहा कि मैं अपने क्षेत्र के लोगों को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने मुझे दोबारा मौका दिया.” बता दें कि अभी कांग्रेस और जेडीएस के बीच कर्नाटक में सत्ता की भागीदारी का फॉर्मूला तय नहीं हुआ है और इस पर कवायद चल रही हैं. (इनपुट- एजेंसी)