बेंगलुरू: कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा ने गुरुवार को कहा कि उन्हें विधानसभा में विश्वास मत जीतने और पांच साल का कार्यकाल पूरा करने का 100 फीसदी भरोसा है. उन्होंने कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन को ‘अपवित्र’ बताया. साथ ही आरोप लगाया कि लोगों ने उन्हें (कांग्रेस-जद(एस) को) पूरी तरह से खारिज कर दिया है. इसके बावजूद वे सत्ता हथियाने की कोशिश में हैं. Also Read - Coronavirus Lockdown: नाई और ड्राइवरों को 5-5 हजार रुपए देगी कर्नाटक Govt

Also Read - कर्नाटक में इसी महीने कैबिनेट विस्‍तार, उपचुनाव जीतने वाले को मिलेगा मंत्री पद

कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकारः कांग्रेस के इन विधायकों के सहारे बहुमत जुटाएगी बीजेपी! Also Read - कर्नाटक उपचुनाव: मतणगणना की पूर्व संध्या पर देवगौड़ा साईंबाबा तो येदियुरप्पा पहुंचे मंजुनाथ स्वामी मंदिर

येदियुरप्‍पा ने कहा कि उन्‍हें विश्वास मत में जीत हासिल करने और उनकी सरकार के पांच साल पूरे करने का विश्वास है. सुप्रीम कोर्ट में रातभर चली दुर्लभ कानूनी लड़ाई के बाद शपथ लेने के तुरंत बाद येदियुरप्‍पा ने पहला संवाददाता सम्मेलन संबोधित किया. कांग्रेस-जद (एस) ने सरकार गठन को रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. येदियुरप्‍पा ने सभी विधायकों से अपने ‘विवेक’ के अनुसार और जनादेश बनाए रखने के लिए वोट देने की अपील की. उन्होंने कहा कि उन्‍हें सफलता का 100 फीसदी भरोसा है. उनके पास पार्टी के लिए लोगों का समर्थन है. येदियुरप्‍पा के सामने अब 112 विधायकों का समर्थन पेश करने की चुनौती है. भाजपा 12 मई को हुए चुनावों में 104 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी. हालांकि चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला.