नई दिल्ली: शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने करतारपुर गलियारे के लिए करीब 1400 रुपये के शुल्क को ‘बहुत ज्यादा’ बताया है. उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से अपील की है कि वह इस गलियारे को आय का जरिया न बनाएं क्योंकि यह तीर्थयात्रा के लिए है.Also Read - Punjab Assembly Elections 2022: पंजाब चुनाव की बड़ी खबर, शिरोमणि अकाली दल ने बसपा से किया गठबंधन

Also Read - पाकिस्तान ने क्रिकेट प्रसारण के लिए भारतीय कंपनी का प्रस्ताव ठुकराया, धारा 370 को ठहराया जिम्मेदार

पाकिस्तान के निमंत्रण पर करतारपुर जाने के लिए सिद्धू को लेनी होगी मंजूरी: विदेश मंत्रालय Also Read - इमरान खान सरकार देश चलाने में असमर्थ है: पाक सुप्रीम कोर्ट

बादल ने कहा कि इसे दोनों देशों के बीच ‘सद्भावना’ के तौर पर देखा जाना चाहिए. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक के बाद बादल ने कहा, ‘‘ मैं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से अपील करता हूं कि वह करतारपुर गलियारे को आय का जरिया बनाने की कोशिश न करें, यह तीर्थयात्रा के लिए है और उसे उसी तरह देखा जाना चाहिए. तीर्थयात्रा में कारोबार न देखें…इसे सद्भावना के रूप में देखा जाना चाहिए.’’ करतारपुर गलियारे का उद्घाटन नौ नवंबर को होगा.

अनुच्छेद 370 को हटाकर संसद ने पूरा किया सरदार वल्लभभाई पटेल का सपना: शाह