चेन्नई. द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि को रक्तचाप में गिरावट के चलते एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. अस्पताल ने एक बयान में बताया कि रक्तचाप में गिरावट के बाद 94 वर्षीय करुणानिधि को गहन चिकित्सा कक्ष में भर्ती किया गया. इससे पहले उनका पेशाब नली में संक्रमण और बुखार का उपचार चल रहा था. अस्पताल ने कहा, ‘‘उपचार से उनका रक्तचाप ठीक हो रहा है और उनके स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखी जा रही है तथा विशेषज्ञों की टीम उनका इलाज कर रही है.’’

द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन तथा उनके बड़े भाई एम के अलागिरि सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेता अस्पताल पहुंचे. दुरईमुरुगन, राज्यसभा सदस्य कनिमोई और पूर्व केंद्रीय मंत्री ए राजा भी अस्पताल पहुंचे. करुणानिधि को अस्पताल ले जाने से पहले द्रमुक नेता गोपाालपुरम क्षेत्र में स्थित उनके आवास पर गए. करुणानिधि के बड़े बेटे और द्रमुक के पूर्व नेता एम के अलागिरी भी अपने पिता को देखने उनके आवास पर गए और अस्पताल भी गए. अलागिरी को द्रमुक प्रमुख ने जनवरी, 2014 में अपने छोटे भाई स्टालिन से लंबे संघर्ष के बाद पार्टी से निकाल दिया गया था.

करुणानिधि के अस्पताल में भर्ती होने की खबर सुनकर पार्टी कार्यकर्ता अस्पताल के पास एकत्र हो गए. उनमें से कुछ के हाथों में करुणानिधि की तस्वीरें थीं. द्रमुक अध्यक्ष के अस्पताल में भर्ती होने से घंटो पहले उनके बेटे स्टालिन ने बताया कि तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री की सेहत में सुधार हो रहा है. बुधवार को उन्होंने कहा था कि उनके पिता के स्वास्थ्य के बारे में चिंता करने की कोई बात नहीं है.

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री के घर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है क्योंकि द्रमुक कार्यकर्ता यहां बड़ी संख्या में आ रहे हैं. राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने अस्पताल जाकर पूर्व मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की जानकारी ली.
इसी बीच राज्य के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने सेलम में संवाददाताओं से कहा कि अगर तमिलनाडु सरकार से संपर्क किया जाता है तो वह बीमार चल रहे करुणानिधि को हर संभव चिकित्सीय सहायता मुहैया कराने के लिए तैयार हैं.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और मुकुल वासनिक ने करुणानिधि के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की और डॉक्टरों से उनके स्वास्थ्य का हालचाल लिया. आजाद ने कहा, ‘‘ करुणानिधि जी का स्वास्थ्य स्थिर है, सुधार हो रहा .। हम सभी उनके तेजी से स्वस्थ होने की कामना करते हैं.’’ उन्होंने बताया कि वह कांग्रेस आलाकमान के निर्देश पर नेता के स्वास्थ्य की जानकारी लेने आए हैं. राज्य कांग्रेस के नेता ईवीकेएस इलानगोवन सहित अन्य नेता अस्पताल में मौजूद थे.