कठुआ: जम्मू-कश्मीर के कठुआ में बलात्कार और हत्या के जघन्य मामले की शिकार हुई बच्ची का परिवार मैदानी इलाके को छोड़ ऊंचे पर्वतीय इलाके की तरफ चला गया है. बच्ची के परिवार का ताल्लुक बाकरवाल समुदाय से है. पुलिस के मुताबिक परिवार ने कुछ दिनों पहले अपना सामान बांधा और ऊंचे पहाड़ी इलाके की तरफ चल दिए.Also Read - 75 साल से आर्टिकल 370 के रहते जम्मू कश्मीर में शांति क्यों नहीं थी? : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पूछा

कठुआ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुलेमान चौधरी ने बताया, ‘‘वे हर साल गर्मियों में ऐसा करते हैं. उन्होंने बस्ती नहीं छोड़ी है और न ही उन्हें यहां से जाने के लिए विवश किया गया.’’ उन्होंने मीडिया में आई उन खबरों को भी खारिज कर दिया कि परिवार बस्ती छोड़ गया है. Also Read - जम्मू कश्मीर पर टिप्पणियों के लिए भारत ने ‘OHCHR’ पर साधा निशाना, कहा- सीमा पार आतंकवाद के कारण...

Also Read - कब बहाल होगा जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा? भाजपा बोली- पहले चुन कर की जा रही हत्याएं बंद हों