आम आदमी पार्टी (आप) के संस्थापक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) विवाद में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से माफी मांगने से इनकार किया है। आप ने डीडीसीए में कथित भ्रष्टाचार को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली पर आरोप लगाया है। लेकिन भाजपा ने एक जांच समिति द्वारा जेटली को इस मामले में क्लीन चिट देने का दावा करते हुए केजरीवाल से इस मामले में माफी मांगने को कहा।यह भी पढ़े :14 साल की लड़की से सेना के जवानों ने चलती ट्रेन में किया गैंगरेप Also Read - पश्चिम बंगाल में चुनाव, अन्य राज्यों में BJP को और मजबूत बनाने लिए JP नड्डा ने इन चेहरों को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

Also Read - BJP अध्यक्ष JP Nadda हुए कोरोना वायरस से संक्रमित, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

जेटली ने इस मामले में केजरीवाल और आप के कुछ नेताओं के खिलाफ मानहानि का मुकदमा भी किया है।जवाब में केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, “भाजपा मुझसे माफी मांगने को कह रही है, लेकिन मैं माफी नहीं मागूंगा। मानहानि मामले में जेटली जी को अपनी बात रखने दीजिए। सच बरकरार रहेगा।”केजरीवाल ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “दिल्ली सरकार की किसी जांच में क्लीन चिट नहीं दी गई है। इस रिपोर्ट में भ्रष्टाचार की कई बातों की पुष्टि की गई है, लेकिन इसमें किसी की जिम्मेदारी नहीं तय की गई है।” Also Read - BJP नेता सुशील कुमार मोदी निर्विरोध चुने गए राज्यसभा सदस्य

मुख्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “इसमें किसी का नाम नहीं लिया गया है और न ही जिम्मेदारी तय करने के लिए जांच आयोग गठित किए जाने की अनुशंसा की गई है, जो हमने अब किया है।”भाजपा ने रविवार को केजरीवाल से जेटली के खिलाफ आरोप लगाने के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगने को कहा था। पार्टी ने कहा कि दिल्ली सरकार के जांच आयोग की रिपोर्ट में जेटली का जिक्र नहीं है।आप नेता ने जेटली से सवाल किया कि यदि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है तो वह जांच से क्यों घबरा रहे हैं?