कोच्चि: यहां एक बॉयज होम में रहने वाले बच्चों के साथ अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने व उनका शोषण करने के आरोप में रविवार को एक ईसाई पादरी को गिरफ्तार किया गया है. पल्लुरूथी पुलिस थाने के एक अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि पेरूम्पडम बॉयज होम के निदेशक जॉर्ज उर्फ जेरी (40) को बच्चों के माता-पिता की शिकायत के आधार पर गिरफ्तार किया गया है.

असम में तीन मुस्लिम युवकों को पीट ‘जय श्रीराम’ बोलने को किया गया मजबूर, एफआईआर

पुलिस ने बताया कि “बच्चों के माता-पिता की शिकायत के आधार पर पादरी को उठा लिया गया और रविवार को उसकी गिरफ्तारी हुई.” सात बच्चों के माता-पिता की शिकायत के अनुसार, पादरी काफी समय से बच्चों का यौन शोषण कर रहा था.

पुलिस ने बताया कि यह मामला उस समय सामने आया जब आश्रय गृह के सात बच्चे वहां से भाग गए और उन्होंने शनिवार की रात को रास्ते में मिले एक व्यक्ति की मदद से अपने माता-पिता को फोन किया. उन्होंने बताया कि पादरी के खिलाफ किशोर न्याय कानून और बाल यौन अपराध संरक्षण (पॉक्सो) की प्रासंगिक धाराओं के तहत आरोप तय किए गए हैं.