तिरुवनंतपुरम: इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के संदिग्ध 15 आतंकवादियों के नौकाओं पर सवार होकर से श्रीलंका से लक्षद्वीप के लिए रवाना होने की खुफिया रिपोर्ट के बाद केरल तट पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. पुलिस विभाग में उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार तटीय पुलिस थानों और तटीय जिला पुलिस प्रमुखों को सतर्क कर दिया गया है. पुलिस के मुताबिक, इस बारे में उसके पास खास सूचना है. इसके बाद तटरक्षक बलों को भी तैनात किया गया है. कोस्‍ट गार्ड के जवान समुद्री क्षेत्र में लगातार चौकस निगाहों से आतंकियों की संभावित गतिविधियों के मद्देनजर पूरी सतर्कता बरत रहे हैं.

पुलिस के एक शीर्ष सूत्र ने कहा, इस तरह के अलर्ट आम हैं, लेकिन इस बार हमारे पास संख्या को लेकर खास सूचना है. ऐसी किसी भी संदिग्ध नौका के दिखने की स्थिति में हमने तटीय पुलिस थानों और जिला पुलिस प्रमुखों को सतर्क रहने को कहा है.

बता दें कि श्रीलंका में 21 अप्रैल को आठ सिलसिलेवार धमाकों में 250 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. इस्लामिक स्टेट ने इस घटना की जिम्मेदारी ली थी.

तटीय पुलिस विभाग ने कहा कि वे 23 मई से ही अलर्ट पर हैं. इसी दिन उन्हें श्रीलंका से सूचना मिली थी. तटीय विभाग के सूत्रों ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, श्रीलंका में हमले की घटना के बाद से हम लोग सतर्क हैं. हमने मछली पकड़ने वाली नौकाओं के मालिकों और समुद्र में जाने वाले अन्य लोगों से किसी भी संदिग्ध गतिविधि को लेकर सतर्क रहने को कहा है.

श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के बाद से केरल हाई अलर्ट पर है. एनआईए की जांच में यह खुलासा हुआ था कि आईएसआईएस के आतंकवादी राज्य में हमलों की साजिश रच रहे हैं.

खुफिया एजेंसियों का मानना है कि अब भी केरल से कई लोगों के आईएसआईएस के साथ संबंध हैं. हाल में इराक और सीरिया से आईएसआईएस का सफाया किया जा चुका है.