Kerala Corona Latest Updates: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने केरल में कोविड-19 संक्रमण के मामलों में वृद्धि के लिए ‘तुष्टीकरण की राजनीति’ को जिम्मेदार ठहराया. इसके साथ ही BJP ने ईद-उल-अजहा पर छूट देने के लिए बुधवार को राज्य सरकार की आलोचना की. BJP प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि केरल में इन दिनों रोजाना संक्रमण के करीब 22 हजार मामले सामने आ रहे हैं. केरल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों पर उन्होंने वहां की वाम लोकतांत्रिक मोर्चे की सरकार को आड़े हाथों लिया और कहा कि इसकी वजह उच्चतम न्यायालय की हिदायत को नजरअंदाज करना और बकरीद के मौके पर राज्य में तीन दिन की छूट देना है.Also Read - पीएम मोदी की रैली कवर करने को पत्रकारों से मांगा 'चरित्र प्रमाणपत्र', कांग्रेस-आप ने साधा निशाना

उन्होंने कहा, ‘कांवड़ यात्रा के समय उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश सरकार ने लोगों की जान बचाने के लिए महत्वपूर्ण फैसले लिए. इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने जो हिदायत दी उसका भी पालन किया गया. बकरीद के समय तीन दिन की जो छूट केरल सरकार ने दी, उस पर सर्वोच्च न्यायालय ने भी चिंता जताई और कहा कि कांवड़ यात्रा के मामले में हमने जो फैसला दिया है, उन हिदायतों का पालन बकरीद के समय केरल सरकार को भी करना चाहिए.’ Also Read - बिहार: RJD ऑफिस के सामने लगे पोस्टर में लालू बने 'भगवान विष्णु., बीजेपी बोली, नीतीश 'कौरवों की तरह सेना बढ़ाने में लगे'

उन्होंने कहा, ‘मगर तुष्टिकरण की राजनीति जीती और उच्चतम न्यायालय की इन हिदायतों का पालन केरल की सरकार ने नहीं किया. जिसका नतीजा है आज 22,000 मामले आना.’ राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा द्वारा एक इंडोर स्टेडियम में अपना जन्मदिन मनाए जाने की सुर्खियों में आई घटना पर पात्रा ने कहा, ‘इस कार्यक्रम में सैंकड़ों लोग शामिल थे. स्कूल और कॉलेज राजस्थान में बंद हैं लेकिन स्वास्थ्य मंत्री अपना जन्मदिन इस तरह मनाकर सैंकड़ों लोगों की जान को खतरे में डाल रहे हैं.’ Also Read - सांसद मनोज झा को पाकिस्तान जाने के लिए केंद्र ने नहीं परमीशन, एक कार्यक्रम में लेना था हिस्सा

बता दें कि केरल में बुधवार को कोरोना के 22,056 नए मामले सामने आए और इस दौरान 131 लोगों की मौत हो गई. साथ ही बीते 24 घंटे के दौरान 17,761 लोगों ने कोरोना को मात भी दी है. राज्य में फिलहाल 1,49,534 एक्टिव मामले हैं.

(इनपुट: भाषा, ANI)