Kerala Covid-19 Lockdown news: केरल में कोरोना वायरस से हालात दिन ब दिन खराब होते जा रहे हैं. यहां पिछले चौबीस घंटे में 37,199 नए संक्रमित मिले हैं और 88 लोगों की मौत हो गई. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि इतने समय में 17,500 लोग ठीक भी हुए हैं. इसके साथ ही राज्य में अबतक 12,61,801 लोग ठीक हो चुके हैं.Also Read - Board Exam 2021 Kerala SSLC Exam 2021 7 जून से कक्षा 10वीं बोर्ड परीक्षा के पेपरों का होगा मूल्यांकन, सीएम ने इसको लेकर कही ये बात

प्रदेश में कोरोना से बिगड़ते हालात पर सीएम पिनराई विजयन (CM Pinarayi Vijayan) ने चिंता जाहिर की है. उन्होंने संक्रमण से निपटने के लिए आने वाले दिनों में सख्त कदम उठाने की बात कही है. सीएम विजयन ने शुक्रवार को कहा- कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में 4 मई से 9 तक कड़े कदम उठाए जाएंगे. मुख्य सचिन दो मई को इसके बारे में विस्तार से जानकारी देंगे. प्रदेश में कोविड-19 दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन किया जाना चाहिए. Also Read - पीएम मोदी के ये मंत्री बैठे भूख हड़ताल पर, केरल के सीएम का मांगा इस्‍तीफा

इधर सरकार ने आज आरटी-पीसीआर (RT-PCR) टेस्टों की कीमत राज्य की सभी निजी प्रयोगशालाओं में 1,700 रुपए से घटाकर 500 रुपए कर दी गई है. जनवरी में केरल सरकार ने एक आदेश दिया था कि आरटी-पीसीआर का टेस्ट की दर 1,500 रुपए होनी चाहिए और केरल हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाते हुए निजी प्रयोगशालाओं की दर 1,700 रुपए तय की गई. Also Read - Coronavirus Delhi: तबलीगी जमात में भाग लेने वाले 300 संदिग्धों की केरल में हुई पहचान

बता दें कि राज्य में गुरुवार को 38,607 लोग कोविड पॉजिटिव हुए जबकि सक्रिय मामलों की संख्या 2,84,086 को छू गई. आरटी-पीसीआई टेस्ट को आईसीएमआर (ICMR) द्वारा निर्देशित के रूप में कोविड के निदान के लिए सोने के मानक के रूप में माना जाता है.

केरल में ओडिशा जैसे राज्यों की तुलना में महज 400 रुपए और हरियाणा, तेलंगाना और उत्तराखंड में 500 रुपए लेने वाले राज्यों की तुलना में केरल में शुक्रवार को स्वास्थ्य सचिव राजन खोबरागड़े ने 500 रुपए की दर तय की. वर्तमान में निजी प्रयोगशालाएं, जिनके कर्मी आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए आवासों से नमूने जमा करते हैं, 1,700 रुपए के अलावा और 1,000 रुपए सर्विस चार्ज लेते हैं. (IANS इनपुट सहित)