Kerala Covid Update: केरल में लगातार तीसरे दिन गुरुवार को कोरोना के 22,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए. केंद्र सरकार की एक टीम राज्य को कोविड-19 चुनौतियों से निपटने में मदद करने के लिए शुक्रवार को वहां जाएगी. इस बीच अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि केरल में आर-फैक्टर में तेजी से वृद्धि के कारण राज्य संक्रमण के नए मामलों में अगले कुछ हफ्तों तक शीर्ष पर रहेगा. आर-फैक्टर यह संकेत देता है कि किस गति से देश में संक्रमण का प्रसार हो रहा है. चेन्नई के गणितीय विज्ञान संस्थान के अनुसंधानकर्ताओं के अनुसार केरल में स्थिति अभी चिंताजनक रहेगी.Also Read - Third Wave News: दूसरी की तरह क्या कोरोना की तीसरी लहर भी होगी भयावह? शीर्ष वायरस विज्ञानी ने दी अहम जानकारी

आर-वैल्यू (अंक) जितना कम होगा, उतनी तेजी से महामारी के प्रसार में गिरावट आएगी. उसी तरह से, अगर आर-वैल्यू एक से ज्यादा है तो इसका मतलब है कि संक्रमित लोगों की संख्या हर चरण में बढ़ रही है और तकनीकी रूप से कहें तो यही महामारी वाला चरण होता है. आर-वैल्यू एक से जितना ज़्यादा होगा, उतनी ही तेजी से संक्रमण का प्रसार बढ़ेगा और संक्रमण दर में वृद्धि होगी. केरल में फिलहाल सबसे ज्यादा मरीजों का उपचार चल रहा है और आर-वैल्यू 1.11 के पास है. Also Read - School Kab Khulenge: क्या स्कूलों को खोले जाने से पहले बच्चों का वैक्सीनेशन है जरूरी? जानें सरकार की तरफ से क्या आया जवाब

वहीं संक्रमण दर में वृद्धि के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने केरल में कोविड-19 के प्रभावी प्रबंधन के लिए 6 सदस्यों वाली एक टीम भेजने की घोषणा की है. इस टीम का नेतृत्व राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) के निदेशक एसके सिंह करेंगे. यह टीम शुक्रवार को राज्य पहुंचेगी और यहां उच्च संक्रमण दर वाले जिलों का दौरा करेगी. Also Read - Coronavirus Updates: त्योहारी सीजन को लेकर सरकार ने फिर चेताया- नहीं खत्म हुई दूसरी लहर इसलिए...

केरल में गुरुवार को कोविड-19 के 22,064 नए मामले सामने आए और 128 लोगों की मौत हो गई. राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 33,49,365 और मृतकों की संख्या बढ़कर 16,585 हो गई. राज्य स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 1,63,098 नमूनों की जांच हुई और जांच संक्रमण दर 13.53 फीसदी दर्ज की गई. राज्य में अब तक 2,68,96,792 नमूनों की जांच हुई है. मलाप्पुरम जिले में सबसे ज्यादा 3,679, त्रिशूर में 2,752 और कोझिकोड में 2,619 मामले सामने आए हैं.

जॉर्ज ने बताया कि गुरुवार को 16,649 मरीजों के संक्रमण मुक्त होने के बाद कुल स्वस्थ हुए लोगों की संख्या बढ़कर 31,77,453 हो गई. फिलहाल 1,54,820 मरीजों का उपचार चल रहा है.

(इनपुट: भाषा)