नई दिल्ली: केरल में बाढ़ और बारिश से हालात बहुत खराब है. बाढ़ और बारिश से जुड़े हादसों में मरने वालों की तादाद बढ़कर 77 हो गई है. मौसम विभाग ने बारिश को लेकर राज्य में रेड अलर्ट जारी किया है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से बात की और हालात का जायजा लिया. पीएम ने रक्षा मंत्री से भी राहत और बचाव कार्य में हर संभव मदद के लिए कहा. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, मैंने गुरुवार सुबह एक बार फिर सीएम पिनराई विजयन से बात की और राज्य में बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया. हमने रक्षा मंत्रालय से भी राहत और बचाव कार्य तेज करने के लिए कहा है. हम केरल के लोगों की सुरक्षा और अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हैं.Also Read - पीएम मोदी ने नए सीएम को दी बधाई, कहा- लोगों के लिए पंजाब सरकार के साथ काम करते रहेंगे

बाढ़ के कारण दक्षिण रेलवे और कोच्चि मेट्रो ने अपना परिचालन निलंबित कर दिया जिससे मध्य केरल के कई हिस्सों में सार्वजनिक परिवहन प्रणाली चरमरा गई है. लगातार हो रही बारिश के कारण पेरियार नदी में जलस्तर बढ़ गया है और मुल्लापेरियार, चेरुतोनी, इडुक्की जलाशय और इदामालयार सहित सभी प्रमुख बांधों के सभी फाटक खोल दिए गए हैं. इसके कारण निचले इलाकों में रहने वाले लोगों का जीवन प्रभावित हुआ है. बाढ़ से कोच्चि शहर में परिवहन व्यवस्था प्रभावित हुई है. Also Read - Business Class Cabin For Dog: शख्स ने पालतू कुत्ते के लिए बुक किया पूरा एयर इंडिया बिजनेस क्लास केबिन

दक्षिण रेलवे के एक प्रवक्ता ने बयान में कहा, ‘अंगमाली और अलुवा के बीच डाउनलाइन पर पुल नंबर 176 पर जलस्तर बढ़ने के कारण इस पुल पर सेवा बंद कर दी गई है. कोच्चि मेट्रो रेल लिमिटेड (केएमआरएल) ने अलुवा के निकट मट्टम में अपने यार्ड के बाढ़ के पानी में डूबे जाने के बाद आज सुबह अपना परिचालन बंद कर दिया.केएमआरएल ने एक बयान में बताया, ‘‘मट्टम यार्ड क्षेत्र में जलस्तर बढ़ने के कारण कोच्चि मेट्रो ट्रेन सेवा बंद कर दी गयी है.’ Also Read - COVID-19 Update: कोरोना के 30,773 नए केस आज आए, केरल के 19,325 मामले शामिल, एक्‍ट‍िव मरीजों की संख्‍या घटी

प्रवक्ता ने बताया कि एक बार जलस्तर कम होने और प्रणाली के अच्छी स्थिति में आने के बाद सेवा फिर से शुरू हो जाएगी.अधिकारियों ने बताया कि कमलसेरी इलाके में शहर को जोड़ने व वाली राष्ट्रीय राजमार्ग के डूब जाने के कारण कोच्चि में बस सेवा भी प्रभावित हुयी है. लगातार हो रही बारिश और पेरियार नदी में बांध का फाटक खोले जाने के चलते कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा क्षेत्र में पानी प्रवेश कर जाने के कारण कल शनिवार तक यहां सभी तरह की हवाई सेवा को बंद कर दिया गया.

पेरियार नदी पर बने बांध का फाटक खोले जाने से कोच्चि इंटरनैशनल एयरपोर्ट में पानी घुस गया. इसके बाद एयरपोर्ट प्रशासन ने वहां से शनिवार तक सभी उड़ानों का परिचालन निलंबित कर दिया और आने-जाने वाले सभी उड़ानों को तिरुवनंतपुरम या कालीकट स्थानांतरित कर दिया. नागर विमान मंत्रालय ने उड़ानों को मुंबई या अन्य स्थानों पर भेजने के बजाय केरल के अन्य हवाई अड्डों का इस्तेमाल करने का राज्य का अनुरोध मान लिया है.