नई दिल्ली: राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्लयू) ने केरल में हुई सामूहिक दुष्कर्म की एक घटना का रविवार को स्वत: संज्ञान लिया. आयोग ने कहा कि उसे घटना के बारे में मीडिया रिपोटरों से पता चला, जिनमें कहा गया था कि तिरुवनंतपुरम की एक 25 वर्षीय महिला का उसके पति और पति के दोस्तों ने पांच साल के बेटे के सामने सामूहिक दुष्कर्म किया. Also Read - महिलाओं को निर्वस्त्र कर पुलिस ने पीटा, महिला आयोग ने प्रशासन से की कार्रवाई की मांग

एनसीडब्ल्यू ने कहा कि महिला के पति ने उसे जबरन शराब पिलाई थी और सिगरेट से उसके शरीर को जलाया भी था और बाद में उसके साथ और ज्यादा क्रूरता की. एनसीडब्ल्यू के अनुसार, महिला का पति उसे अपने दोस्त के घर ले गया, जहां दोस्तों ने महिला के शरीर को सिगरेट से दागा और उसके बड़े बेटे के सामने उसके साथ दुष्कर्म किया. आयोग ने केरल की आईपीएस, पुलिस महानिदेशक श्रीलेखा को भी पत्र लिखकर आरोप पत्र दाखिल होने तक मामले में की गई कार्रवाई के संबंध में जल्द से जल्द जानकारी देने का निर्देश दिया है.

पुलिस अधीक्षक (एसपी), तिरुवनंतपुरम (ग्रामीण) ने आयोग को बताया कि मामले में छह आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया गया है. महिला और उसके बच्चे फिलहाल सुरक्षित हैं. घटना गुरुवार को हुई थी.