कोच्चि: केरल में सोने की तस्करी से जुड़े मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के निलंबित अधिकारी एम शिवशंकर से गुरुवार को 9 घंटे तक पूछताछ की. इससे पहले जुलाई में भी उनसे दो बार पूछताछ हो चुकी है. Also Read - Kerala Gold smuggling case: बीजेपी ने मांगा मुख्यमंत्री पिनरई विजयन का इस्तीफा

बता दें कि सीमाशुल्क विभाग ने गत 5 जुलाई को 15 करोड़ रुपए मूल्य का 30 किलोग्राम सोना जब्त किया था. Also Read - UP: स्‍टोन व्यवसायी के मर्डर से जुड़े 5 ऑडियो लीक, IPS, IAS और नेताओं के Nexus का खुलासा

एनआईए की टीम के सामने पूर्वाह्न 11 बजे पेश हुए शिवशंकर से मामले में गिरफ्तार एक प्रमुख आरोपी स्वप्ना सुरेश की मौजूदगी में पूछताछ हुई. शिवशंकर रात लगभग सवा आठ बजे एनआईए के पूछताछ केंद्र से रवाना हुए. Also Read - पूर्व वित्त सचिव राजीव कुमार बने नए चुनाव आयुक्त, झारखंड कैडर से है इनका ताल्लुक

मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन के प्रधान सचिव रहे शिवशंकर से एनआईए ने मामले में तीसरी बार पूछताछ की है. इससे पहले उनसे जुलाई में एनआईए के तिरुवनंतपुरम और कोच्चि कार्यालय में दो बार पूछताछ हो चुकी है.

एनआईए ने इस मामले में गैर कानूनी गतिविधि रोकथाम कानून के तहत सुरेश, सरित पीएस, संदीप नायर और फैजल फरीद सहित कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

सुरेश और सरित संयुक्त अरब अमीरात के वाणिज्य दूतावास के पूर्व कर्मचारी हैं. मामला संयुक्त अरब अमीरात के तिरुवनंतपुरम स्थित वाणिज्य दूतावास के एक अधिकारी के नाम का इस्तेमाल कर राजनयिक सामान के जरिए सोने की तस्करी की कोशिश से जुड़ा है.