Kerala Lockdown Updates: क्या केरल में पूर्ण लॉकडाउन लगाने की तैयारी हो रही है? दरअसल केरल कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में से एक है. यहां हर दिन 28 के करीब नए मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में वायरस के प्रसार को रोकने के लिए राज्य में लॉकडाउन (Kerala Lockdown ) जैसी पाबंदियां लगाने पर विचार किया जा रहा है. खुद केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (Pinarayi Vijayan) ने इसकी जानकारी दी. सोमवार को सर्वदलीय बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी राज्य में कड़े प्रतिबंध लागू किए जाने के पक्ष में हैं. मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा, “आज सर्वदलीय बैठक में, आम राय यह थी कि केरल को पूर्ण लॉकडाउन में नहीं जाना चाहिए. लेकिन सभी दलों ने सुझाव दिया कि COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए राज्य में कड़े प्रतिबंध लागू किए जाएं.”Also Read - हिंदी पर हंगामा: केरल के सीएम पिनराई विजयन ने कहा- हिंदी थोपना स्वीकार नहीं किया जाएगा

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक ऑनलाइन आयोजित की गई थी. दो घंटे चली बैठक के बाद विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने मीडिया को बताया कि सभी दल संपूर्ण लॉकडाउन लागू नहीं करने पर सहमत थे. कांग्रेस नेता ने कहा, हमने यह भी सुनिश्चित करने का फैसला किया कि 2 मई को मतगणना के दिन सभी समारोह कम से कम रखे जाएं. बैठक ने यह भी सुनिश्चित करने का निर्णय लिया कि सभी जिला प्रशासक दिशानिर्देशों को सख्ती से लागू करें, खासकर जब यह शादियों और अंतिम संस्कारों की संख्या को न्यूनतम स्तर पर रखने के लिए आया था. Also Read - Kerala Lockdown-Unlock: पूरी तरह से अनलॉक हुआ केरल, 100% खुल गए स्कूल-थिएटर-मॉल-रेस्टोरेंट, सबकुछ

जिन अन्य चीजों पर चर्चा की गई, उनमें वर्तमान प्रोटोकॉल को देखना और प्रतीक्षा करना शामिल है, जिसमें रात के कर्फ्यू को रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक शामिल करना है. प्रत्येक शनिवार और रविवार को लागू होने वाले अर्ध-लॉकडाउन प्रोटोकॉल के साथ जारी रखने पर भी सहमति बनी थी, जब केवल आवश्यक वस्तुओं को बेचने वाली दुकानें ही खुलेंगी और अन्य सभी बंद रहेंगे, इसके अलावा निजी परिवहन वाहनों को भी अनुमति नहीं दी जाएगी और सभी को घर के अंदर रहना होगा. पिछले एक सप्ताह में राज्य में बड़े पैमाने पर टेस्ट अभियान देखा गया है, जहां लगभग हर रोज औसतन एक लाख टेस्ट किए जा रहे हैं. Also Read - Kerala में कोरोना पाबंदियों में ढील, रविवार का Lockdown भी खत्म, स्कूलों को लेकर हुआ यह फैसला

बता दें कि केरल में पहले से ही लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लागू हैं. कोविड-19 के मामलों को नियंत्रण में लाने के लिए शनिवार से राज्य सरकार द्वारा लगाये गये लॉकडाउन के चलते रविवार को दुकानें एवं व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे और सड़कों पर कम ही वाहन नजर आये.

केरल में रविवार को कोविड-19 से 45 स्वास्थ्यकर्मियों सहित 28,469 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई जबकि 30 और मरीजों की मौत हो गयी. राज्य में इस महामारी के मामले अब बढ़कर करीब 14.05 लाख हो गये है और अब तक 5,110 मरीजों की जान चली गयी. राज्य सरकार ने यह जानकारी दी.

सरकार ने बताया कि गत 24 घंटे में 8,122 मरीज ठीक हुए हैं जिन्हें मिलाकर अब तक 11,81,324 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. इस वक्त राज्य में 2,18,893 मरीजों का उपचार चल रहा है. सरकार ने बताया कि गत 24 घंटे में 1,31,155 नमूनों की जांच की गई और संक्रमण की दर 20.35 प्रतिशत रही. अब तक 1,51,16,722 नमूनों की जांच की जा चुकी हैं.