नई दिल्ली: दिग्गज गायिका अनुराधा पौडवाल इन दिनों चर्चा में हैं. दरअसल केरल की एक 45 वर्षीय महिला ने खुद को उनकी बायोलॉजिकल बेटी होने का किया है. करमाला मोडेक्स (Karmala Modex) नाम की महिला ने फैमिली कोर्ट में मामला दायर कराया है और मुआवजा मांगा जिसके बाद यह घटना सामने आई. जिला फैमिली अदालत में 67 साल की सिंगर के खिलाफ केस दायर किया है, जिसमें 50 करोड़ रुपए का हर्जाना मांगा गया.

महिला का दावा है कि 1974 में जन्म देने के बाद अनुराधा ने उसे पालने वाले माता-पिता को सौंप दिया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोडेक्स का कहना है कि अपने व्यस्त शेड्यूल की वजह से अनुराधा ने उन्हें नहीं पाला और उनके पैरंट्स अनुराधा के फैमिली फ्रेंड हैं.

तिरुवनंतपुरम में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए करमाला ने कहा कि उनके बायलॉजिकल माता-पिता अनुराधा और अरुण पौडवाल ने वर्ष 1969 में शादी की और उनका जन्म 1974 में हुआ. करमाला की याचिका के मुताबिक, तब वे बमुश्किल 4 दिन की थीं, जब सिंगर ने उन्हें पालक माता-पिता पोंनाचन और अगनेस को सौंप दिया था. महिला ने कहा कि अनुराधा पौडवाल ने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि वे उस समय प्लेबैक सिंगिंग में व्यस्त थीं और बच्चे की जिम्मेदारी नहीं उठाना चाहती थीं. इस मामले को लेकर अनुराधा पौडवाल का अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

गौरतलब है कि 80 और 90 के दशक में अनुराधा पौडवाल ने कई सुपरहिट गानों को अपनी आवाज दी है. वे बॉलीवुड की पुरानी दिग्गज गायिका हैं. पद्मश्री और नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित अनुराधा पौडवाल ने लगभग 4 दशक तक बॉलीवुड गाने और भजन गाए हैं.