नई दिल्ली: अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव ने हरियाणा में 19 वर्षीय बोर्ड टॉपर छात्रा के साथ कथित तौर पर हुए सामूहिक बलात्कार की घटना में शामिल लोगों को फांसी देने की मांग की और आरोप लगाया कि राज्य की मनोहर लाल खट्टर सरकार सत्ता में बने रहने का नैतिक अधिकार खो चुकी है.

 

उन्होंने पीड़ित लड़की के परिवार से मुलाकात के बाद एक बयान जारी कर कहा कि इस तरह की घटनाओं के लिए हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार जिम्मेदार है. इस घटना ने पूरे देश को शर्मसार किया है. मुख्यमंत्री सत्ता में बने रहने का नैतिक अधिकार खो चुके हैं और उनको अपने पद से तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए. देव ने कहा कि एक तरफ भाजपा सरकार बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ का नारा दे रही है और दूसरी ओर उनके शासित राज्यों में ही पढाई के क्षेत्र में कीर्तिमान स्थापित करने वाली बेटियों के साथ लगातार दुर्व्यवहार के मामले सामने आ रहे हैं. उन्होंने दावा किया कि यह राज्य सरकार की लचर कानून-व्यवस्था का ही परिणाम है कि एक के बाद एक ऐसी घटनाएं हो रही हैं.

हरियाणा: कोचिंग से लौट रही 19 साल की टॉपर लड़की का अपहरण और गैंगरेप, खट्टर सरकार पर विपक्ष का हमला

एक आरोपी सेना का जवान
रेवाड़ी की रहने वाली छात्रा (19) को बीते बुधवार को पड़ोसी महेंद्रगढ़ जिले के कनीना कस्बे में एक बस स्टॉप से अगवा कर लिया गया था और उसे नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया गया था. इस मामले में निशू नाम के मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. दो अन्य मुख्य आरोपियों को पकड़ने के लिए कई जगहों पर छापेमारी जारी है. एक आरोपी सेना का जवान है. (इनपुट एजेंसी)