नई दिल्ली: स्वीडन (SWEDEN) के राजा कार्ल सोलहवें गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने विदेश मंत्री एस. जयशंकर से मुलाकात की. यह शाही जोड़ा सोमवार को पांच दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचा था. विदेश मंत्री ने राजा गुस्ताफ और रानी सिल्विया से द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत बनाने के तरीकों पर चर्चा की. राजा गुस्ताफ राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मुलाकात करेंगे.

हैदराबाद गैंगरेप विक्टिम का नाम पॉर्न साइट्स पर कर रहा टॉप ट्रेंड, लाखों लोग तलाश रहे वीडियो

शाही दंपत्ति मुंबई और उत्तराखंड भी जाएगा. उनका दिल्ली में जामा मस्जिद, लाल किला और गांधी स्मृति जाने का भी कार्यक्रम है. राजा गुस्ताफ की यह तीसरी भारत यात्रा है. राजा अपने देश के उच्च स्तरीय उद्योगपतियों के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे हैं.

अधिकारियों ने कहा, ‘‘ द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए कई दस्तावेजों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं.’’ भारत और स्वीडन के बीच संबंध पिछले कुछ वर्षों में मजबूत हुए हैं. दोनों देशों के बीच 2018 में द्विपक्षीय व्यापार 3.37 अरब डॉलर का था. विदेश मंत्रालय ने बताया था, ‘‘ भारत और स्वीडन के बीच मैत्रीपूर्ण द्विपक्षीय संबंध हैं और लोकतंत्र, पारदर्शिता, स्वतंत्रता के अधिकार तथा कानून के शासन जैसे सिद्धांतों पर आधारित हैं. राजनीति, व्यापार, वैज्ञानिक और अकादमिक क्षेत्र में नियमित वार्ता ने हमारे द्विपक्षीय संबंधों को गति प्रदान की है.’’