नई दिल्ली: कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में आज राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कई बड़ी बातें कहीं. सबसे पहले राहुल गांधी ने ‘खेती का खून’ नाम की बुकलेट जारी की. इसमें कृषि कानून किस हद तक किसानों को नुकसान पहुंचा सकते हैं, ये कांग्रेस ने विस्तार से बताया है. Also Read - दादी इंदिरा गांधी के इमरजेंसी को राहुल गांधी ने बताया गलती, कहा- 'उस दौरान जो भी हुआ वह गलत लेकिन...'

कृषि कानूनों को लेकर हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि तीनों कृषि कानून देश के किसानों को बर्बाद कर देंगे. किसान ये सच्चाई जानते हैं. मैं हमेशा किसानों के साथ खड़ा हुआ हूं. मैं आंदोलन कर रहे किसानों के साथ हूं. मैं पीएम मोदी और बीजेपी से नहीं डरता हूं. Also Read - Kisan Andolan: आंदोलन तेज करेंगे किसान- SKM का ऐलान, चुनावी राज्यों में BJP का करेंगे विरोध और 12 मार्च को...

राहुल गांधी ने कहा कि इस देश को तीन चार लोग ही चला रहे हैं. और देश उन्हीं के हाथों में सौंपने की तैयारी है. राहुल गाँधी ने कहा कि केंद्र सरकार को कृषि कानून हर हाल में वापस ही लेने होंगे. मैं बीजेपी के सवालों के जवाब नहीं दूंगा. मैं किसानों के हर सवाल के जवाब देने को तैयार हूं. कोई भी किसानों को बेवक़ूफ़ नहीं बना सकता है. अरुणाचल प्रदेश को लेकर सवाल पूछने वाले जेपी नड्डा कौन हैं. ये सवाल तो पीएम मोदी से पूछना चाहिए. Also Read - मैरीटाइम इंडिया समिट 2021: पीएम मोदी ने कहा- भारत विकास कर रहा है, दुनिया के देश आएं और इसका हिस्सा बनें