Kisan Andolan: केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध प्रदर्शन की वजह से दिल्ली आने वाले कई रास्ते सोमवार को भी बंद रहे. इसके मद्देनजर दिल्ली की यातायात पुलिस ने ट्विटर के माध्यम से लोगों को बंद रास्तों की जानकारी दी और उन्हें परेशानी से बचने के लिए वैकल्पिक मार्गों से आवागमन करने का परामर्श दिया.Also Read - मुख्यमंत्री केजरीवाल ने की किसानों के नुकसान पर मुआवजे की घोषणा, जानें प्रति हेक्टेयर कितने रुपये मिलेंगे

केंद्र द्वारा सितंबर में लागू कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर विभिन्न राज्यों के किसान दिल्ली के सिंघू, टिकरी, गाजीपुर और चिल्ला बॉर्डर (दिल्ली-नोएडा सीमा) पर दो हफ्तों से डेरा डाले हुए हैं. Also Read - कैप्‍टन अमरिंदर सिंह जल्‍द अपनी पार्टी की घोषणा करेंगे, BJP समेत इन दलों से कर सकते हैं गठबंधन

यातायात पुलिस ने ट्वीट कर बताया,, ‘‘ सिंघू, औचंदी, पियाउ मनियारी, सभोली और मंगेश सीमाएं बंद हैं. इसलिए यात्री वैकल्पिक लामपुर, सफियाबाद और सिंघू स्कूल टोल नाका बार्डर के रास्ते आवागमन करें. मुकर्बा और जीटी करनाल रोड पर मार्ग बदला गया है. यात्री बाहरी रिंग रोड और एनएच-44 से बचें.’’ Also Read - NRI के अकाउंट से बड़ी रकम उड़ाने की कोशिश, HDFC के तीन बैंककर्मियों समेत 12 लोग अरेस्‍ट

दिल्ली यातायात पुलिस ने कई ट्वीट कर बताया, ‘‘गाजियाबाद से दिल्ली आने वालों के लिए गाजीपुर बॉर्डर किसानों के प्रदर्शन की वजह से बंद रहेगा, इसलिए लोगों को सलाह दी जाती है कि वे दिल्ली आने के लिए आनंद विहार, डीएनडी, चिल्ला, अप्सरा और भोपरा बॉर्डर के वैकल्पिक रास्तों को चुने.’’

उल्लेखनीय है कि केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसान नेता सोमवार को एक दिन का अनशन कर रहे हैं.

(इनपुट भाषा)