Kisan Andolan: सरकार और किसानों के बीच नए कृषि कानूनों (Farms Law) को लेकर सातवें दौर की बैठक भी बेनतीजा खत्म हो गई है. उम्मीद की जा रही थी कि आज की बैठक निर्णायक होगी, हालांकि बात नहीं बनी. आठवें दौर की अगली बैठक अब 8 जनवरी को होगी. बैठक के बाद किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि कानूनों की वापसी के अलावा कुछ भी मंजूर नहीं है. Also Read - खेती को बर्बाद करने बनाए गए तीन कानून... मेरा चरित्र साफ, मैं डरने वाला नहीं: राहुल गांधी

किसान नेता राकेश टिकैट ने कहा कि,  ‘8 तारीख (8 जनवरी 2021) को सरकार के साथ फिर से मुलाकात होगी.

राकेश टिकैट ने कहा कि तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने पर और MSP दोनों मुद्दों पर 8 तारीख को फिर से बात होगी. हमने बता दिया है कानून वापसी नहीं तो घर वापसी नहीं.

मालूम हो कि किसान आंदोलन के 40वें दिन में प्रवेश करने के बाद दिल्ली के विज्ञान भवन में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल व राज्य मंत्री सोम प्रकाश किसान संगठनों के 41 प्रतिनिधियों से चर्चा की.

किसान केंद्र सरकार द्वारा लागू कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) कानून 2020, कृषक (सशक्तीकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा करार कानून 2020 और आवश्यक वस्तु (संशोधन) कानून 2020 के विरोध में 26 नवंबर से दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं. इस दौरान सरकार के साथ उनकी कई दौर की वार्ताएं हो चुकी है.

(इनपुट: एजेंसी)