Kisan Andolan: कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने किसान आंदोलन को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने आंदोलनकारी किसानों की तुलना ‘सत्याग्रहियों’ से की और कहा कि किसान (Farmers) सरकार से अपना हक ले कर रहेंगे. उन्होंने हिंदी में ट्वीट किया, देश चंपारण जैसी त्रासदी का सामना कर रहा है, तब अंग्रेज कंपनी बहादुर थे और अब पीएम मोदी (PM Narendra Modi) के दोस्त कंपनी बहादुर हैं.Also Read - सिद्धू के बाद पंजाब के CM ने कहा- पाकिस्तान से व्यापार शुरू हो, मैं केंद्र को पत्र लिखूंगा

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा, लेकिन आंदोलनकारी किसान ‘सत्याग्रही’ हैं; वे अपना हक लेंगे. सत्याग्रह सरकार की नीतियों के खिलाफ राजनीतिक विरोध का एक तरीका है. ब्रिटिश शासन के खिलाफ महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) ने सत्याग्रह (Satyagrah) का तरीका अपनाया था. Also Read - MP Panchayat Chunav: बीजेपी और कांग्रेस में इन मुद्दों पर हो रही तकरार, 'आरक्षण' ने बढ़ाई सरगर्मी

स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान 1917 में महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) ने बिहार (Bihar) के चंपारण में सत्याग्रह किया था, जब उन्होंने किसानों के मजबूरन इंडिगो खेती करने के खिलाफ आंदोलन किया था. Also Read - गद्दार कहने पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिग्विजय सिंह को दिया करारा जवाब, याद दिलाया 'ओसामा जी...' बयान