Kisan Andolan: किसानों ने फिर ठुकराया सरकार का प्रस्ताव, कहा- एक-दो साल के लिए नहीं, हमेशा के लिए रद्द हों कृषि कानून

किसानों ने कृषि कानूनों को डेढ़ दो साल रोके जाने का सरकार का प्रस्ताव ठुकरा दिया है.

Updated: January 21, 2021 8:32 PM IST

By Zeeshan Akhtar

Farmers protesting at Singhu border. (Photo PTI)
प्रतीकात्मक तस्वीर

Kisan Andolan: किसानों ने कृषि कानूनों को डेढ़ दो साल रोके जाने का प्रस्ताव ठुकरा दिया है. किसानों ने कहा कि हम इस प्रस्ताव को नहीं मानते हैं. तीनों कानून पूरी तरह से रद्द होने चाहिए. किसानों ने ये भी कहा कि हमारा बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा.

Also Read:

बता दें कि केंद्र सरकार ने एक दिन पहले ही किसानों को मीटिंग में प्रस्ताव दिया था कि सरकार इन तीनों कानूनों (Farm Laws) को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में हलफनामा देकर डेढ़ दो साल के लिए टालने को तैयार है. इस बीच ये कानून लागू नहीं किये जायेंगे और इस दौरान कोई हल निकाला जाएगा.

सयुंक्त किसान मोर्चा (Sanyukt Kisan Morcha) ने सरकार के इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया है. मोर्चा ने कहा कि हमारी मांग है कि कानून पूरी तरह से रद्द ही हों. हमारा बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा. एमएसपी पर कानून बने. बता दें कि किसान कृषि आंदोलन को लेकर पिछले डेढ़ माह से अधिक समय से प्रदर्शन कर रहे हैं. किसानों और सरकार के बीच 10 दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन कोई हल नहीं निकल सका है. मामला सुप्रीम कोर्ट भी पहुँच चुका है. 26 जनवरी को किसान ट्रैक्टर मार्च भी निकालने वाले हैं.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 21, 2021 8:28 PM IST

Updated Date: January 21, 2021 8:32 PM IST