कोलकाता: कोलकाता में फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के खिलाफ युवा कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन के चलते शनिवार को एकल पर्दे वाले दो थियेटरों और एक मल्टीप्लेक्स चैन के एक प्रदर्शन में इस फिल्म की स्क्रीनिंग रोक दी गयी. एकल पर्दे वाले नवीना सिनेमा के मालिक नवीन चौखानी ने कहा, ‘पार्क सर्कस के एक मॉल में मल्टीप्लेक्स चेन के (एक ऑडिटोरियम के) पर्दे को फाड़ दिये जाने के बाद अप्रिय घटना की आशंका से हमने इस फिल्म की रिलीज के दूसरे दिन आज से उसे दिखाना बंद कर दिया है.’

चोखानी ने कहा कि इस फिल्म का प्रदर्शन बंद कर दिया गया. वैसे पहले दिन दो बजे का शो शांतिपूर्ण तरीके से गुजर गया था. दूसरे एकल पर्दे वाले अशोक सिनेमा में भी इस फिल्म की स्क्रीनिंग बंद कर दी गयी है. अशोक सिनेमा के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘किसी समूह के प्रदर्शन के मद्देनजर हमने आज से ‘द एक्सीडेंटल प्राइममिनिस्टर‘ का मैटनी शो निलंबित करने का फैसला किया है.’ यह फिल्म पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार संजय बारु के संस्मरण ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ पर आधारित है. शुक्रवार को युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गणेश चंद्र एवेन्यू में एक मल्टीप्लेक्स चेन के ऑडिटोरियम के बाहर प्रदर्शन किया था और पोस्टर फाड़ दिये थे.

मनमोहन सिंह एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर नहीं कामयाब प्रधानमंत्री रहे: शिवसेना

युवा कांग्रेस का एक अन्य समूह शाम के शो के दौरान पार्क सर्कस में उसी मल्टीप्लेक्स चेन के एक ऑडिटोरियम में घुस गया था और उसने पर्दा फाड़ दिया था. मल्टीप्लेक्स चेन के प्रवक्ता ने कहा कि केवल गणेश चंद्र एवेन्यू के हिंद में ही शनिवार से इस फिल्म का शो रद्द किया न कि शहर या उपनगरीय क्षेत्र के किसी अन्य ऑडिटोरियम में है.

प्रवक्ता ने कहा, ‘कल (पार्क सर्कस के मॉल में) क्वेस्ट में रात करीब आठ बजे बाधा पहुंची, लेकिन प्रशासन की मदद से स्थिति अब नियंत्रण में है. निर्धारित समयानुसार शो चल रहे हैं.’ उन्होंने कहा कि पार्क सर्कस ऑडिटोरियम में इस फिल्म की स्क्रीनिंग निर्धारित समयानुसार शनिवार को होगी. वैसे पश्चिम बंगाल कांग्रेस ने युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन को अस्वीकार कर दिया है और कहा कि पार्टी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का कभी विरोध नहीं करेगी.