कोलकाता: भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अब्दुल रशीद अंसारी ने कहा कि केंद्र में पार्टी की सरकार अल्पसंख्यकों का विश्वास हासिल करने के लिए ‘अतिरिक्त प्रयास’ कर रही है और वह काफी हद तक ‘मुसलमान विरोधी’ होने की धारणा को बदलने में सफल रही है. अंसारी ने आरोप लगाया कि विपक्ष ने भाजपा के खिलाफ अल्पसंख्यकों में ‘डर फैलाने का अभियान’ शुरू किया है. Also Read - Coronavirus को लेकर राम गोपाल वर्मा ने किया भद्दा मज़ाक, यूजर्स बोले- थोड़ी तो शरम करो, पुलिस लेगी एक्शन

अंसारी ने यहां एक साक्षात्कार में कहा कि ‘राजनीतिक पार्टियों (विपक्षी) ने अल्पसंख्यकों से हमें दूर करने के लिए हमें (भाजपा) निशाना बनाया. उन्होंने भाजपा के वोट वैंक को हड़पने की एक कोशिश के रूप में अल्पसंख्यकों के बीच डर फैलाने का काम किया.’ Also Read - कोलकाता के सबसे पुराने फुटबाल क्लबों में शामिल ईस्ट बंगाल दान करेगा 30-35 लाख रुपए

यूपी की लेडी कांस्टेबल की तस्वीर, जिससे भावुक हुआ पूरा पुलिस विभाग, DGP ने दिया ये तोहफा Also Read - कांग्रेस ने सामूहिक पलायन पर सरकार से पूछे सवाल, कहा- गरीबों की जिंदगी मायने रखती है या नहीं

उन्होंने कहा कि यह कई सालों से चल रहा है, लेकिन बाद में चीजें बदल गई और आप पाएंगे कि पार्टी देश के कई हिस्सों में अल्पसंख्यकों के बीच अपना जनाधार बढ़ा रही है. उन्होंने कहा अल्पसंख्यकों और पिछडे़ वर्गों को पहली बार अहसास हुआ कि भाजपा अन्य पार्टियों की तरह ‘झूठे वादे नहीं करती.’ देश में पीट-पीट कर हत्या करने की हाल की घटनाओं पर अंसारी ने कहा कि भाजपा नेतृत्व ने इसके खिलाफ आवाज उठाई और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है.