कहा जाता कि भाग्य से ज्यादा और समय से पहले किसी को कुछ नहीं मिलता है. लेकिन ये भी कहा जाता है कि जो कुछ आपको मिलना होता है कि उसके लिए स्थिति-परिस्थिति किसी भी तरह तैयार हो जाती है. कोलकाता के लिए निकले एक युवा के साथ भी ऐसी ही कुछ स्थिति बन गई और वह एक रात में ही 7.3 करोड़ रुपये कमा लिया. Also Read - UAE में भारतीय ने जीता 20 करोड़ रुपए की लॉटरी का जैकपॉट, फोन आया तो लगा मजाक है

बता दें कि खाड़ी देश संयुक्त अरब अमीरात के दुबई में रह रहे एक भारतीय की दस लाख अमेरिकी डॉलर (लगभग 7.3 करोड़ रुपये) की इनामी राशि वाली लॉटरी लगी है. खलीज टाइम्स ने खबर दी है कि दुबई में छह साल से रह रहे 45 साल के सौरव डे की ये लॉटरी लगी है. उन्होंने सितम्बर महीने में अपनी छुट्टियों में कोलकाता यात्रा के समय पहली बार दुबई डयूटी फ्री टिकट खरीदा था. डे एक बीमा कंपनी में काम करते हैं. Also Read - Lottery: 30 साल से एक ही नंबर की लॉटरी टिकट खरीद रहा था शख्स, आखिरकार जीते 2 करोड़

उनके अलावा दो और लोगों की किस्मत खुली है. इसमें एक भारतीय 44 साल के बाबू अजीत बाबू हैं. उन्हें बीएमडब्ल्यू कंपनी की मोटरबाइक मिलेगी. लाटरी हासिल करने वाले तीसरे शख्स श्रीलंका के सजीवा निरंजन हैं. उन्हें रेंज रोवर कार मिलेगी. Also Read - लॉकडाउन में मस्ती को बुला रहीं सनी लियोनी! बिकनी में हॉर्स राइडिंग करते आईं नजर

केरल के शख्स ने कमाए थे
बता दें कि इससे पहले केरल के इस युवा ने अबु धाबी में एक जुआ में रातभर में 13 करोड़ रुपये कमाए थे. 30 साल के तोजो मैथ्यू ने टिकट नंबर 075171 से 7 मिलियन दिरहम कमा लिए. उसने ये टिकट बिग टिकट लॉटरी से खरीदी थी.

नौकरी से दे दिया था इस्तीफा
बता दें कि तोज अबु धाबी में सिविल सुपरवाइजर के तौर पर काम करते हैं. वह वहां छह साल से थे. हाल ही में उन्होंने अपनी नौकरी से इस्तीफा दिया है. 24 जून को तोज की अबु धाबी से भारत के लिए फ्लाइट थी. फ्लाइट के बोर्डिंग से ठीक पहले उन्होंने ये टिकट खरीदी थी. टिकट उनके नाम से थी, लेकिन इसके लिए 18 दोस्तों ने पुलिंग की थी.

मां ने ये कहा
तोजो की मां कुंजम्मा मैथ्यू ने कहा. तोजो हमेशा से यहां एक नया घर बनवाना जाहता था. लेकिन उसके पास पैसे नहीं थे. मैंने अपने पति से कहा था कि अगर वह लॉटरी जीत जाता है तो उसका सपना पूरा होगा और ठीक वैसा ही हुआ. बता दें कि यह पहला मौका नहीं है कि किसी भारतीय ने इतनी बड़ी रकम जीती हो. इससे पहले अप्रैल में अबु धाबी में ही एक भारतीय ड्राइवर ने 12 मिलिय दिरहम जीती थी.