कोलकाता: कोलकाता मेट्रो रेलवे अपनी सेवाएं बहाल होने होने पर यात्रियों की संख्या में ‘जबरदस्त’ कटौती करने की योजना बना रहा है, ताकि दो गज दूरी के नियमों का सही तरीके से पालन करना सुनिश्चित किया जा सके. एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. Also Read - कोरोना मामले पर स्वास्थ्य मंत्रालय का बयान- प्रतिबंधों में ढील के कारण 5 राज्यों में बढ़ें संक्रमण के मामले

शहर में मेट्रो सेवाओं को बहाल करने के लिए तैयारियां शुरू की गई हैं और इस बात पर जोर दिया जा रहा है कि स्टेशन और ट्रेन के अंदर सामाजिक दूरी के नियमों का पालन बेहतर तरीके से हो. अधिकारी ने कहा, ‘ यह सुनिश्चित करने के लिए कि ट्रेनों में भीड़ एकत्र नहीं हो और डिब्बों में यात्री सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करें, इसके लिए मेट्रो रेलवे यात्रियों की संख्या में एक तिहाई तक की कटौती कर सकता है.’ Also Read - Coronavirus: पीपीई किट पहनने के बाद बढ़ी बेचैनी, कुछ ही देर बाद स्वास्थकर्मी की मौत

मेट्रो रेलवे सेवाएं बहाल करने पर केंद्र के दिशा-निर्देशों का पालन करेगा. कोलकाता मेट्रो की प्रवक्ता इंद्राणी बनर्जी ने कहा, ‘ हमने गैर-जरूरी यात्रा को हतोत्साहित करने और भीड़ कम करने के लिए यात्रियों की संख्या में भारी कमी करने की योजना बनायी है.’ Also Read - प्रवासी मजदूरों की वापसी ने बढ़ाई बिहार प्रशासन की चिंता, कोरोना के मामलों में हो रही वृद्धि

उन्होंने कहा कि राजस्व के नुकसान के बावजूद यात्रियों की सुरक्षा के लिए सभी नियमों का पालन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी और मास्क पहनना अनिवार्य होगा.

उन्होंने कहा कि मेट्रो में भारी संख्या में लोग यात्रा करते है इसलिए सोशल डिस्टेंस मेंटेन करना बहुत मुश्किल है इसलिए हमें अपनी तरफ से कुछ ऐसे कदम उठाने पड़ेंगे जिससे महामारी का खतरा न हो.

बनर्जी ने कहा कि हम दूसरे देशों से बेहतर है इसका मतलब यह नहीं है कि खतरा नहीं है हमें हमेशा ऐहतियात बरतना पड़ेगा खास तौर से यात्रा के दौरान क्योंकि यात्रा के ही समय एक जगह पर ज्यादा भीड़ इकट्ठा होती है.