शिलांग. कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार शारदा चिटफंड घोटाले में सबूतों को नष्ट करने में अपनी कथित भूमिका को लेकर सीबीआई पूछताछ का सामना करने शुक्रवार को मेघालय की राजधानी शिलांग पहुंचे. एक अधिकारी ने यहां बताया कि कुमार से यहां सीबीआई कार्यालय में और एक अज्ञात स्थान पर सीबीआई दल पूछताछ करेगा. कुमार के साथ कोलकाता पुलिस के तीन अन्य आईपीएस अधिकारी भी आए हैं.

गृह विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई भाषा से कहा, कुमार को शहर के एक बहुत बड़े होटल में ठहराया गया है. राज्य पुलिस उन्हें सुरक्षा प्रदान कर रही है. सीबीआई अधिकारियों का एक समूह उनसे पूछताछ करने के लिए दिल्ली से आ रहा है और उसके शुक्रवार रात में पहुंचने का कार्यक्रम है.

भाजपा सांसद गिरिराज सिंह के बिगड़े बोल- ममता ‘पूतना” हैं, वह झांसी की रानी नहीं बन सकती

कोर्ट ने दिया था आदेश
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कोलकाता के पुलिस आयुक्त को सीबीआई के सामने पेश होने और सारदा चिटफंड घोटाले से जुड़े मामलों की जांच में उसके साथ ‘विश्सनीय रूप से’ सहयोग करने का निर्देश दिया था. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट किया था कि उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाएगा. सीबीआई ने उच्चतम न्यायालय में आरोप लगाया था कि सारदा चिटफंड घोटाले की एसआईटी जांच के अगुवा रहे कुमार ने इलेक्ट्रोनिक सबूत के साथ छेड़छाड़ की और उन्होंने सीबीआई को जो दस्तावेज सौंपे, उनमें से कुछ में ‘छेड़छाड़’ की गयी थी.

घर गई थी सीबीआई
कोर्ट ने ‘सभी अनावश्यक विवादों से बचने के लिए’ कुमार को तटस्थ स्थान शिलांग में सीबीआई के सामने पेश होने का निर्देश दिया. सीबीआई अधिकारी रविवार को कुमार से पूछताछ के लिए उनके घर पर गयी थी लेकिन कोलकाता पुलिस ने उनके प्रयास का विरोध किया. उसके बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ‘संविधान बचाने के लिए’ तीन दिन तक धरना दिया.