कोलकाता: साल्ट लेक सिटी में एक दिल को दहला देने वाला वाकया सामने आया है. यहां एक शख्स अपनी मां के शव के साथ रह रहा था. मकान से बदबू आने पर जब इसकी सूचना पड़ोसियों ने पुलिस को दी तो वहां पहुंची पुलिस इस खौफनाक मंजर को देख कर हैरान रह गई. पश्चिम बंगाल के कोलकाता में पिछले 3 साल में इस प्रकार का ये चौथा मामला है. पुलिस ने बताया साल्ट लेक निवासी 40 वर्षीय मैत्रेय भट्टाचार्य अपनी 75 वर्षीय बुजुर्ग मां कृष्णा भट्टाचार्य के शव के साथ लगभग एक सप्ताह से ज्यादा समय से रह रहे थे. पुलिस ने महिला के सड़े-गले शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है.Also Read - WB Assembly Election 2021: कोलकाता में असदुद्दीन ओवैसी की रैली रद्द, बढ़ सकती है ममता बनर्जी से तकरार?

Also Read - Kolkata Police White Dress Code: कोलकाता पुलिस क्यों पहनती है सफेद Uniform, जानें क्या है असल वजह

शव पर कीड़े लग चुके थे Also Read - SC की ममता सरकार को कड़ी फटकार-लाइन क्रॉस मत करो, देश को आजाद रहने दो, जानिए मामला

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि साल्ट लेक क्षेत्र में BE ब्लॉक के दो मंजिले मकान में 75 वर्षीय महिला कृष्णा भट्टाचार्य का शव उनका बेटा कम से कम सात-आठ दिनों से रखे हुए था. पड़ोसियों ने उस मकान से बदबू आने की शिकायत की, तब पुलिस वहां पहुंची. पुलिस ने घर का नजारा देखा तो दंग रह गई. पुलिस ने देखा अंधेरे कमरे में एक लकड़ी की अलमारी पर बुजुर्ग महिला का शव पड़ा हुआ है जिसमें कीड़े पड़ चुके थे. वहीं उसके पुत्र मैत्रेय भट्टाचार्य का कहना था कि वह शव को दफनाने के लिए विशेष क्षण का इंतजार कर रहा था.

पुलिस अधिकारी के अनुसार मृतका कृष्णा के बेटे से पूछताछ की जा रही है. उसकी उम्र 40 के आसपास है. वह मानसिक रूप से बीमार लग रहा है. महिला का शव पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया है. इसी प्रकार की एक घटना इसी शहर में जून 2015 में घटी थी जब दक्षिण कोलकाता के रोबिनसन स्ट्रीट इलाके के 44 वर्षीय बाशिंदे को उसके घर में उसकी बहन और कुत्ते के कंकाल के साथ पाया गया था. वह इन कंकालों के साथ छह महीने से रह रहा था. वहीँ इसी साल अप्रैल माह में भी 43 वर्षीय शुब्रतो मजुमदार नाम के एक शख्स को कोलकाता पुलिस ने हिरासत में लिया था उसने अपनी मां के शव को तीन साल से रेफ्रिजरेटर में रखा हुआ था.

कर्नाटक सीएम का ‘क्लिप’ वायरल, हत्यारे को बेरहमी से मारने की कह रहे थे बात!

पुलिस मैत्रेय भट्टाचार्य के अजीबोगरीब व्यवहार को लेकर मनोचिकित्सक से परामर्श लेने पर विचार कर रही है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक अभी उसे (मैत्रेय) गिरफ्तार नहीं किया गया है और ऐसा लग रहा है कि उसका कोई रिश्तेदार भी नही है क्योंकि अभी तक किसी ने सम्पर्क नहीं किया है, इसलिए फिलहाल उसे पुलिस स्टेशन में ही रखा गया है. उन्होंने कहा पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद मनोचिकित्सक और दूसरे डॉक्टरों से राय ली जाएगी कि उसके साथ क्या करना है.’ फिलहाल पुलिस ने अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज कर लिया है और मामले की तहकीकात जारी है.