नई दिल्ली: पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय में सोमवार को कुलभूषण जाधव की उनकी पत्नी और मां से मुलाकात के बाद पाकिस्तान ने एक वीडियो जारी किया है. इसमें कुलभूषण जाधव ने इस मुलाकात के लिए पाकिस्तान का धन्यवाद किया है. ये वीडियो मुलाकात होने के तुरंत बाद पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की ओर से की गई एक प्रेस कांफ्रेंस में दिखाया गया.

इस वीडियो में कुलभूषण ने कहा- “मैंने अपनी पत्नी और मां के साथ मुलाकात का अनुरोध किया और मैं इस भव्य समारोह के लिए पाकिस्तान सरकार का आभारी हूं,”

कुलभूषण जाधव का ये वीडियो भी पहले आए कई वीडियो की तरह डाक्टर्ड लग रहा है. इसे देखने पर साफ पता चलता है जैसे वे सामने लिखी किसी स्क्रिप्ट को पढ़ रहे हैं. इतनी ही नहीं मुलाकात के दौरान वे एक नीला कोट और उसके नीचे एक सफेद शर्ट में दिख रहे थे वहीं कुछ देर बाद ही दिखाए गए आभार ज्ञापित करने वाले इस वीडियो में वे दूसरे रंग की शर्ट पहने हैं. इसे देखकर एक बार फिर पाकिस्तान का झूठ बेनकाब हो जाता है.

यह भी पढ़ें: पहली बार दुनिया ने देखी कुलभूषण जाधव की मां-पत्नी की तस्वीर, हाव-भाव बयां कर रहे थे पूरी कहानी

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने कहा, “यह एक मानवीय बैठक थी. ये काउंसलर एक्सेस नहीं था. भारतीय राजनयिक जेपी सिंह वहां मौजूद थे और देख सकते थे. मिलने की अनुमति नहीं थी. हमने जाधव के निवेदन पर मुलाकात का समय 10 मिनट बढ़ाया.” मुलाकात के वक्त बीच में एक शीशे की दीवार को लेकर फैजल ने कहा कि ऐसा करना सुरक्षा कारणों से जरूरी था. उन्होंने कहा कि वे अपने भारतीय समकक्षों को बता चुके थे कि वे किसी तरह का शारीरिक संपर्क नहीं चाहते.

इस्लामाबाद स्थित पाकिस्तान विदेश मंत्रालय में कुलभूषण की उनकी मां अवंतिका जाधव और पत्नी के बीच हुई ये मुलाकात लगभग 30 मिनट तक चली. इस बीच इन लोगों के बीच एक कांच की दीवार थी और इंटरकॉम के जरिए तमाम कैमरों के बीच बात हुई. इस बातचीत की जो तस्वीर सामने आई उसे लेकर एक बार फिर पाकिस्तान की नियत पर सवाल उठने लगे हैं. सोशल मीडिया पर पाकिस्तान के खिलाफ लोगों ने विरोध जताना शुरू कर दिया है.